यूके बॉय सुयाल के कोरोना रैप गीत ने मचाया धमाल, पहले ही दिन हुआ वायरल

मोटाहल्दू। अपने रैप गाने से धूम मचाने वाले सिंगर अजय सुयाल (यूके बॉय सुयाल) ने एक बार फिर कोरोना वायरस पर रैप गीत सोशल डिस्टेंसिंग…

मोटाहल्दू। अपने रैप गाने से धूम मचाने वाले सिंगर अजय सुयाल (यूके बॉय सुयाल) ने एक बार फिर कोरोना वायरस पर रैप गीत सोशल डिस्टेंसिंग का रखना थोड़ी ख्याल रे, वरना लग जाओगे कोरोना की कतार में, से धमाल मचा दिया है। उनका यह गीत पहले ही दिन सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। खास बात यह है कि इस गीत को खुद प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने लांच किया। कोरोना महामारी के दौर में अजय सुयाल का यह गीत बड़ा संदेश दे रहा है। उन्होंने गीत में कोरोना से बचाव और लापरवाही न बरतने की अपील की है। इस वीडियो गीत की शुरूआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लॉकडाउन घोषणा पर दिये गये भाषण से होती है।

इससे पहले उनके गीत, एक बार आके देख मेरे यूके में, ने बड़ा धमाल मचाया था। जिसमें उन्होंने उत्तराखंड की सुंदरता को बड़े सुंदर शब्दों में परोया था। उनके गीत हिन्दी में है। आज भी यह गीत युवाओं की जुबां पर है। अब 25 अप्रैल को प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने उनके कोरोना महामारी गीत को रिलीज किया। इस गीत खुद यूके बॉय (अजय सुयाल) ने लिखा है। रैप भी उन्होंने तैयार किये है। युवा उनकी सुरीली आवाज का दीवाने है। यह गीत उनके चैनल द माउंटेन म्यूजिक से रिलीज हुआ है। गीत में वीडियोग्राफी का काम उनके बचपन के दोस्त विशाल वर्मा दून बाइकर्स ने महत्तवपूर्ण भूमिका निभाई है। मिक्सिंग का काम लक्ष्य परिहार ने किया है। गीत के क्रेटिंव मैंनेजर उदित मिश्रा है जबकि पोस्टर डिजाइन अखिलेश के द्वारा किया गया है।

गीत के रिलीज होते ही यह सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। उनके फैंस इस गीत की खूब पसंद कर रहे है। इससे पहले उनका गीत पहाड़ और पंजाब, आये लडक़े पहाड़ी और घर से दूर मैं, को लोगों ने खूब प्यार दिया। अजय सुयाल यूके बॉय के नाम से मशहूर है। बता दें कि अजय सुयाल उर्फ यूके बॉय मूलरूप से पनुवानौला जिला अल्मोड़ा के रहने वाले है। गायकी के क्षेत्र में उनके हाथ सफलता लगी है। इससे पहले उन्होंने कई हिन्दी गीतों को विवेक सुयाल के साथ पहाड़ी में गाकर लोगों के बीच रखा लेकिन इस रैप के साथ उन्होंने पहाड़ी और हिन्दी शब्दों की तुकबंदी कर पूरे इंडिया पर धमाल मचा दिया।

अजय सुयाल ने बताया कि वह इंजीनियरिंग के छात्र रहे है। इंजीनियरिंग के दौरान वह खूब रैप गाने सुनते थे। उन्हें 11वीं क्लास से रैप गाने सुनने का शौक चढ़ा। इसके बाद वर्ष 2013 में उन्होंने गीत लिखने शुरू किये। अब एक बार आके देख मेरे यूके में गीत ने धमाल मचा दिया है। फिर उन्होंने कभी पीछे मुडक़र नहीं देखा। उन्होंने अपने गीतों के माध्यम से उत्तराखंड की सच्चाई को आगे लाने का प्रयास किया।