पुराने एचएमटी वाले विशाल भू-भाग में स्थापित हो कुमाऊं का एम्स अस्पताल

✒️ पूर्व दर्जा राज्यमंत्री ने सीएम धामी को सौंपा ज्ञापन ✒️ पहाड़ी व मैदानी भाग का मध्य बिंदु है रानीबाग का यह क्षेत्र सीएनई रिपोर्टर,…


✒️ पूर्व दर्जा राज्यमंत्री ने सीएम धामी को सौंपा ज्ञापन

✒️ पहाड़ी व मैदानी भाग का मध्य बिंदु है रानीबाग का यह क्षेत्र

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा

पूर्व दर्जा राज्य मंत्री केवल सती ने प्रदेश के मुख्यमंत्री से उत्तराखंड के कुमाऊं क्षेत्र में ऋषिकेश की तर्ज पर एम्स की स्थापना सुविधाजनक स्थान पर करने की मांग की है। इसके लिए उन्होंने इसके लिए रानीबाग स्थित अब खाली हो चुकी एचएमटी की भूमि पर एम्स स्थापित करने का सुझाव दिया है।

एडवोकेट केवल सती ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को गत दिवस सौंपे ज्ञापन में कहा कि उत्तराखंड के ऋषिकेश में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की स्थापना वर्ष 2012 में हुई थी। उसी की तर्ज पर कुमाऊँ मंडल में भी एम्स खोला जाना प्रस्तावित है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में उत्तराखंड सरकार को नैनीताल जनपद में हल्द्वानी से नज़दीक एच.एम.टी. वाले विशाल भू-भाग, जिसमें भवन आदि भी हैं को ध्यान में रखना चाहिए। यह एम्स खोलने के लिए बहुत ही उपयुक्त स्थान है तथा वह क्षेत्र पहाड़ी व मैदानी भाग का मध्य बिंदु भी है, जिसका लाभ पूरे कुमाऊं क्षेत्र को मिलेगा। सती ने कहा कि कुमाऊं में निकट भविष्य में एम्स की स्थापना होनी है, अतएव भविष्य में कुमाऊं में बनने वाला एम्स पहाड़ी व मैदानी क्षेत्र के मध्य एच.एम.टी. वाले स्थान में स्थापित करवाया जाये। उन्होंने सीएम से प्रस्तावित एम्स हॉस्पिटल को एच.एम.टी वाले स्थान में स्थापित करने के लिए केन्द्र सरकार को प्रस्तावित करने की मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *