Breaking News : पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी को भारतीय सेना की गुप्त जानकारी देने के आरोप में हरियाणा पुलिस का सिपाही गिरफ्तार

सीएनई रिपोर्टर हरिायाणा। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी को भारतीय सेना की गुप्ता सूचनाएं उपलब्ध कराने के आरोप में हरियाणा पुलिस के एक सिपाही को लघु सचिवालय…

सीएनई रिपोर्टर

हरिायाणा। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी को भारतीय सेना की गुप्ता सूचनाएं उपलब्ध कराने के आरोप में हरियाणा पुलिस के एक सिपाही को लघु सचिवालय से गिरफ्तार किया है। आरोप है कि यह एक पाकिस्तानी महिला के संपर्क में आने के बाद से लगभग 03 साल से अधिक समय से गुप्त सूचनाएं पाकिस्तान को दे रहा था। आरोपी वर्तमान में लघु सचिवालय की ड्यूटी पर था और सेना से रिटायर्ड है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार हरियाणा पुलिस में कानिस्टेबल सुरेंद्र से दो मोबाइल व दो सिम कार्ड बरामद हुए हैं। पलवल पुलिस को गुप्तचर विभाग से एक महत्वपूर्ण सूचना मिली कि सुरेंद्र नाम का सिपाही जो कि आर्मी से रिटायर्ड है वह पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी को सेना की जानकारियां मुहैया करा रहा है। ताजा खबरों के लिए WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

जिसके बाद पुलिस हरकत में आ गई और पुलवल पुलिस ने आरोपी सिपाही सुरेंद्र को लघु सचिवालय से गिरफ्तार कर लिया। ​यह सिपाही साल 2018 में ​सेना से रिटायर होने के बाद हरियाणा पुलिस में सिपाही के पद पर नियुक्त हुआ था।

पुलिस के अनुसार पूछताछ में कई खुलासे हुए हैं। सबसे अहम बात यह है कि यह सिपाही साल 2018 से ही भारतीय सेना की गुप्त सूचनाएं पाकिस्तानी एजेंसी को दे रहा था।

उत्तराखंड : कुमाऊं मंडल को मिला नया कमिश्नर, इस IAS अधिकारी को मिली कमान

बताया कि इसकी फेसबुक के माध्यम से पाकिस्तानी एजेंसी में काम करने वाली किसी महिला से दोस्ती हुई। जिसके बाद से वह भारतीय सेना की गुप्त सूचनाओं को पाकिस्तानी एजेंसी को दे रहा था। इसकी एवज में इसे रकम भी मिलती थी। यह अभी तक पाकिस्तान से 70 हजार ले चुका है।

फिलहाल आरोपी के फोन को साइबर सेल को सौंप दिया गया है ताकि पूरी डिटेल खंगाली जा सके कि इसने क्या—क्या सूचनाएं पाकिस्तान को दी हैं। इधर पलवल जिला पुलिस कप्तान दीपक गहलावत ने बताया कि मामले की जांच जारी है। सेना की तरफ से यदि आदेश आता है ​तो सिपाही को सेना को भी सौंपा जा सकता है।