हल्द्वानी : DM-SSP ने बुलाई पीस कमेटी की बैठक, कहा- अपराधिक तत्वों की सूचना दें

हल्द्वानी समाचार | बनभूलपुरा क्षेत्र में हुई हिंसा के बाद आज सोमवार को प्रशासन और पुलिस ने नगर निगम सभागार में पीस कमेटी की बैठक…

हल्द्वानी : शांति व्यवस्था कायम रखने में सभी सहयोग करें - डीएम एसएसपी

हल्द्वानी समाचार | बनभूलपुरा क्षेत्र में हुई हिंसा के बाद आज सोमवार को प्रशासन और पुलिस ने नगर निगम सभागार में पीस कमेटी की बैठक का आयोजन किया। जिसमें शहर के कर्फ्यू ग्रस्त बनभूलपुरा क्षेत्र के इमाम, मौलाना सहित गणमान्य लोग उपस्थित रहे। इस दौरान जिलाधिकारी वंदना ने शहर के लोगों के साथ ही धर्म गुरूओं, जनप्रतिनिधियों व जनमानस से शान्ति व्यवस्था बनाने की अपील की है।

जिलाधिकारी ने कहा कि बनभूलपुरा क्षेत्र के लोगों को मानवीय सहायता समय-समय पर दी जा रही है। बनभूलपुरा क्षेत्र में मोबाइल नेटवर्क कॉल चल रही है केवल इंटरनेट सेवा बंद है। उन्होंने कहा कि बनभूलपुरा क्षेत्र में सौहार्द पूर्ण माहौल होते ही सभी सुविधायें सुचारू कर दी जायेंगी। उन्होंने कहा बनभुलपुरा क्षेत्र के लोगों के लिए आवश्यक सामग्री समय-समय पर दी जा रही है साथ ही मरीजों एवं गर्भवती महिलाओं के लिए एम्बुलेंस सेवा स्थल पर है। उन्होंने कहा किसी भी व्यक्ति को कोई परेशानी होती है अधिकारियों से सम्पर्क कर उनकी समस्या का निदान किया जायेगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि शहर की जनता हमारा परिवार है हम अपनी जिम्मेदारी को पूर्ण रूप से निभायेंगे। हम अपने शहर के हालात खराब नहीं होने देंगे। उन्होंने सभी लोगों से कहा है कि अराजक तत्वों की सूचना प्रशासन व पुलिस को देने की अपील की है। इसके लिए जिम्मेदार नागरिक की भूमिका अदा करें। उन्होंने कहा कुछ लोगों ने गलत किया है उन्हें सजा दिलाने में सहयोग करें। उन्होंने कहा निर्दोष व्यक्तियों पर कोई कार्यवाही नहीं की जायेगी। उन्होंने कहा कि हल्द्वानी शहर में सभी धर्मों के लोगों सौहार्द पूर्वक निवास करते है हमें इसी सौहार्द माहौल को बनाये रखना है। जिलाधिकारी ने लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है।

बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पीएन मीणा, अपर जिलाधिकारी शिव चरण द्विवेदी, नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय, सिटी मजिस्ट्रेट एबी बाजपेयी, ऋचा सिंह, उपजिलाधिकारी पारितोष वर्मा, रेखा कोहली, एएसपी हरबंस सिंह, थानाध्यक्ष नीरज भाकुनी के साथ ही गणमान्य, धर्मगुरू आदि लोग मौजूद थे।