CM Office तक पहुंची थप्पड़ की गूंज, तत्काल प्रभाव से हटाये गये चांटा मार कलेक्टर, देखिये वीडियो

सीएनई रिपोर्टर घर से लॉकडाउन में बीमार पिता के लिए दवा ​लेने निकले युवक का पहले मोबाइल सड़क पर पटका, फिर उसके गाल पर जोरदार…


सीएनई रिपोर्टर

घर से लॉकडाउन में बीमार पिता के लिए दवा ​लेने निकले युवक का पहले मोबाइल सड़क पर पटका, फिर उसके गाल पर जोरदार चांटा जड़ दिया। इतने में भी मन नही भरा तो पुलिस से कह उसे डंडे भी पड़वाये। यह हरकत छत्तीसगढ़ के कलेकटर रणबीर शर्मा ने की थी। जिसके बाद सोशल मीडिया में मचे बवाल के बाद उन्हें सीएम के आदेश पर तत्काल हटाते हुए नए कलेक्टर की नियुक्त कर दी गई है।

नैनीताल : इस परिवार पर लगी Corona की काली नज़र, मां, बेटा—बेटी तीनों की मौत, उजड़ गया हंसता—खेलता परिवार

उल्लेखनीय है कि कोरोना curfew के दौरान देश भर से उच्च प्रशासनिक अधिकारियों व पुलिस कर्मियों द्वारा आम जनता के साथ बत्तमीजी व मारपीट करने की घटनाएं लगातार सामने आ रही हैं। जबकि सभी सरकारों ने corona curfew लगाने के दौरान यह स्पष्ट कर दिया है कि अति आवश्यकीय कार्य से बाहर आने वालों पर किसी किस्म की कार्रवाई नही की जायेगी। इसके बावजूद विभिन्न राज्यों व जनपदों में डीएम, एसडीएम लेवल के अधिकारियों द्वारा आये दिन आम जनता के साथ बदसलूकी करने अथवा उन पर झूठे मुकदमे दर्ज करके उत्पीड़न करने के मामले लगातार प्रकाश में आ रहे हैं।

Big Breaking : स्कूटी से घर लौट रही महिला एएसआई की अज्ञात वाहन की चपेट में आने से दर्दनाक मौत, एएसपी कार्यालय नैनीताल में थी तैनात

दरअसल, आज छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने कलेक्टर रणबीर शर्मा को हटाने के आदेश जारी कर दिये हैं। उनके स्थान पर गौरव कुमार सिंह को नियुक्त कर दिया गया है।

यह था पूरा मामला —
हाल ही में एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ। जिसमें कलेक्टर रणबीर शर्मा एक युवक के साथ बत्तमीजी से पेश आते दिखाई दिये। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि युवक को कलेक्टर रोकते हैं। वह युवक बताता है कि वह अपने ​बीमार पिता के लिए दवा लेने निकला है। दवा की पर्ची भी दिखाने का प्रयास करता है, पर कलेक्टर पहले उसका मोबाइल सड़क पर पटकते हैं, फिर उसे जोरदार थप्पड़ मारते हैं। उसके बाद पुलिस वालों को भी युवक को पीटने का निर्देश देते हैं।

इस घटना का वीडियो जब वायरल हुआ तो आईएएस एसोसिएशन भी विरोध में उतर आई। सभी ने कलेक्टर रणबीर के व्यवहार की तीखी निंदा की।

Uttarakhand : बुजुर्ग नही युवाओं पर हमलावर है Corona की दूसरी लहर, बड़ी संख्या में बच्चे भी हो रहे Infected, यकीन मानिये बिना बताये गुपचुप आयेगी तीसरी लहर ! जरूर पढ़िये यह रिपोर्ट…..

भारी दबाव में सीएम बघेल को फैसला लेना पड़ा। उन्होंने ट्विटर के माध्यम से कहा कि ”सोशल मीडिया के माध्यम से सूरजपुर कलेक्टर रणबीर शर्मा द्वारा एक नवयुवक से दुर्व्यवहार का मामला मेरे संज्ञान में आया है। यह बेहद दुखद और निंदनीय है। छत्तीसगढ़ में इस तरह का कोई कृत्य कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कलेक्टर रणबीर शर्मा को तत्काल प्रभाव से हटाने के निर्देश दिए हैं। किसी भी अधिकारी का शासकीय जीवन में इस तरह का आचरण स्वीकार्य नहीं है। इस घटना से क्षुब्ध हूँ। मैं नवयुवक व उनके परिजनों से खेद व्यक्त करता हूँ।”

दिल्ली जीतेगी जंग : Corona infection की रफ्तार धीमी, पर फिर 31 मई तक बढ़ाया Lockdown

हमारे WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

वहीं, अब थप्पड़मार कलेक्टर रणवीर शर्मा को मंत्रालय में संयुक्त सचिव के पद पर भेजा गया है। हालांकि आम नागरिक अब भी इस फैसले से खुश नही हैं। अधिकांश लोगों की राय है कि इस तरह की हरकत करने वाले आईएएस अधिकारियों पर कम से कम निलंबन जैसी कार्रवाई होनी चाहिए।

Big Breaking : अल्मोड़ा—हल्द्वानी राष्ट्रीय राजमार्ग पर खाई में गिरी कार, एक की मौत, तीन घायल

CM Office तक पहुंची थप्पड़ की गूंज, तत्काल प्रभाव से हटाये गये चांटा मार कलेक्टर, देखिये वीडियो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *