सरकार पर भड़के आंगनबाड़ी कर्मचारी, 27 अक्टूबर को प्रदेश स्तरीय सांकेतिक धरना

25 नवंबर को प्रदेश स्तरीय आंदोलन विशाल रैली, सचिवालय में धरना—प्रदर्शन सीएनई रिपोर्टर, हल्द्वानी उत्तरांचल आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की यहां हुई प्रदेश स्तरीय बैठक में…


  • 25 नवंबर को प्रदेश स्तरीय आंदोलन
  • विशाल रैली, सचिवालय में धरना—प्रदर्शन

सीएनई रिपोर्टर, हल्द्वानी

  • उत्तरांचल आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ की यहां हुई प्रदेश स्तरीय बैठक में 18 हजार प्रतिमाह मानदेय देने सहित 04 सूत्रीय मांगों को लेकर आंदोलन तीव्र करने का निर्णय लिया गया। तय हुआ कि यदि मांगों के संदर्भ में कोई उपयुक्त निर्णय नहीं लिया गया तो अगले माह नवंबर से प्रदेश स्तरीय आंदोलन की शुरूआत कर दी जायेगी। यह भी निर्णय लिया गया कि 27 अक्टूबर को प्रदेश के समस्त जनपदों में एक दिवसीय सांकेतिक धरना देकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ती अपने रोष का इजहार करेंगी।

प्रदेश अध्यक्ष प्रभा फर्त्याल की अध्यक्षता में हुई बैठक में वक्ताओं ने कहा कि चार सूत्रीय मांगों में आंगनबाड़ी व मिनी आंगनबाड़ी कर्मचारियों को कम से कम 18 हजार रूपये प्रति माह मानदेय समय पर दिये जाने, जनश्री बीमा योजना का लाभ देने, सुपरवाइजर पद पर पदोन्नति में 100 प्रतिशत आरक्षण देने तथा विभागीय आनलाइन कार्यों को करने हेतु मोबाइल व लैपटाप दिए जाने की मांगें शामिल हैं। उन्होंने कहा कि पुराने उपकरण सभी खराब हो चुके हैं।

उन्होंने कहा कि गत 14 अक्टूबर को मुख्यमंत्री से हुई वार्ता के बाद भी कोई अनुकूल आदेश नहीं जारी किया गया है। जिससे संगठन के सदस्यों में रोष व्याप्त है। यदि समय रहते सभी मांगे नहीं मानी गई तो नवंबर माह की 25 तारीख से प्रदेश स्तरीय आंदोलन शुरू कर दिया जायेगा। इस मौके पर एक नोटिस के रूप में पत्र निदेशक महिला सशक्तिकरण, बाल विकास एवं पुष्टाहार, उत्तराखण्ड शाासन, देहरादून को भी भेजा गया। बैठक में संगठन के तमाम पदाधिकारी व सदस्य मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *