उत्तराखंड : खालिस्तानी नेटवर्क के खिलाफ NIA की छापेमारी

देहरादून | खालिस्तानी समर्थकों के खिलाफ भारत सरकार के तल्ख तेवर हैं। एकता और अखंडता के विरुद्ध आवाज उठाने वाले लोगों पर नकेल कसने के…

उत्तराखंड : खालिस्तानी नेटवर्क के खिलाफ NIA की छापेमारी

देहरादून | खालिस्तानी समर्थकों के खिलाफ भारत सरकार के तल्ख तेवर हैं। एकता और अखंडता के विरुद्ध आवाज उठाने वाले लोगों पर नकेल कसने के लिए सरकारी जांच एजेंसी एनआईए (NIA) लगातार कई जगहों पर छापेमारी कर रही है। उत्तराखंड में भी बुधवार को एनआईए ने छापेमारी की है। देहरादून समेत कई शहरों में एनआईए की कार्रवाई जारी है।

उत्तराखंड में एनआईए की छापेमारी चल रही है। खालिस्तान लिबरेशन फ्रंट नामक संगठन को गोली सप्लाई करने के आरोप में बुधवार को एएनआईए की टीम देहरादून पहुंची है। देहरादून क्लेमेंट टाउन स्थित परीक्षित नेगी के घर सरकारी जांच एजेंसी की टीम और पुलिस मौजद है।

ये है मामला

पिछले साल दिल्ली में भारी मात्रा में अवैध कारतूस पकड़े जाने के मामले में दिल्ली पुलिस ने देहरादून के आर्म्स डीलर परीक्षित नेगी को गिरफ्तार किया था। इन दिनों परीक्षित जमानत पर बाहर है और अपने क्लेमेनटाउन स्थित घर में है। एनआईए को इनपुट मिला था कि देहरादून के परीक्षित नेगी के गन स्टोर से खालिस्तान समर्थकों को कारतूस उपलब्ध कराए गए।

इसके अलावा अमृतसर समेत अन्य स्थानों पर भी कारतूस सप्लाई करने की सूचना एनआईए को मिली थी। एनआईए ने बुधवार सुबह देहरादून के क्लेमेनटाउन में परीक्षित नेगी के घर पर छापा मारा, पुलिस बल की मौजूदगी में एनआईए की टीम पूछताछ कर रही है।

उधर उधम सिंह नगर जिले के बाजपुर में एनआईए की छापेमारी जारी है, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) आतंक-गैंगस्टर-तस्कर गठजोड़ से जुड़े तीन अलग-अलग मामलों में देशभर में 51 स्थानों पर तलाशी ले रही है।