Uttarakhand Board : फरवरी-मार्च में होंगी उत्तराखंड बोर्ड की परीक्षाएं

Uttarakhand Board Exams | शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत ने शिक्षा सत्र को नियमित करने के लिए विभागीय अधिकारियों को अभी से तैयारियों में…

Uttarakhand Board : फरवरी-मार्च में होंगी उत्तराखंड बोर्ड की परीक्षाएं

Uttarakhand Board Exams | शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत ने शिक्षा सत्र को नियमित करने के लिए विभागीय अधिकारियों को अभी से तैयारियों में जुटने के निर्देश दिए हैं। विधानसभा कक्ष में हुई बैठक में मंत्री ने कहा, सरकार का उद्देश्य बोर्ड परीक्षाओं को समय पर आयोजित कराकर परीक्षाफल समय पर घोषित कराना है।

इसके लिए फरवरी-मार्च में परीक्षाएं कराने और 30 अप्रैल तक बोर्ड परीक्षा परिणाम एवं 30 मई तक अंक सुधार परीक्षा परिणाम घोषित करने का लक्ष्य दिया गया है, ताकि उच्च शिक्षा का सत्र भी समय पर शुरू किया जा सके।

शिक्षा मंत्री ने कहा, बोर्ड परीक्षाओं के तहत अंक सुधार परीक्षा का परिणाम भी एक माह के भीतर घोषित कर दिया जाएगा। सत्र नियमित होने से जहां छात्र-छात्राएं नई कक्षा में समय पर प्रवेश ले सकेंगे, वहीं उच्च शिक्षा के सत्र को समय पर शुरू करने में मदद मिलेगी। इसका लाभ प्रदेश की पूरी शिक्षा व्यवस्था को मिलेगा।

रिपोर्ट तैयार कर मंत्रालय को देने के निर्देश

डॉ. रावत ने विभागीय अधिकारियों को आवंटित जनपदों का भ्रमण कर विद्यालयों का स्थलीय निरीक्षण करने के साथ ही स्कूल में उपलब्ध संसाधनों की भी रिपोर्ट तैयार कर मंत्रालय को प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा, भ्रमण के दौरान अधिकारी पीएम-श्री स्कूल, अटल उत्कृष्ट विद्यालय एवं कलस्टर विद्यालयों सहित नेता जी सुभाष चंद्र बोस आवासीय छात्रावासों का भी स्थलीय निरीक्षण करें। इस दौरान वे छात्र-छात्राओं एवं अभिभावकों से भी संवाद स्थापित करेंगे। भ्रमण के बाद विभागीय अधिकारियों की ओर से प्रस्तुत रिपोर्ट के आधार पर शिक्षा व्यवस्था में सुधार के लिए प्रभावी निर्णय लिए जाएंगे।

बैठक में सचिव विद्यालयी शिक्षा रविनाथ रमन, अपर सचिव शिक्षा योगेन्द्र यादव, रंजना राजगुरू, महानिदेशक विद्यालयी शिक्षा बंशीधर तिवारी, अपर सचिव एमएम सेमवाल, निदेशक माध्यमिक शिक्षा सीमा जौनसारी, निदेशक अकादमी शोध एवं प्रशिक्षण वंदना गर्ब्याल, निदेशक प्राथमिक शिक्षा रामकृष्ण उनियाल, संयुक्त सचिव जेएल. शर्मा, बीएस. बोरा, उप सचिव अनिल कुमार पाण्डेय आदि मौजूद रहे।