“राम और राष्ट्र में समझौता नहीं किया जा सकता” : आचार्य प्रमोद कृष्णम @Rahul Gandhi

प्रमोद कृष्णम ने राहुल पर छोड़े शब्दवाण, निष्कासन के बाद पहली प्रतिक्रिया  राम मंदिर पर बयानबाजी से नाराज कांग्रेस ने कर दिया था निष्कासित CNE…

आचार्य प्रमोद कृष्णम
प्रमोद कृष्णम ने राहुल पर छोड़े शब्दवाण, निष्कासन के बाद पहली प्रतिक्रिया

 राम मंदिर पर बयानबाजी से नाराज कांग्रेस ने कर दिया था निष्कासित

CNE DESK/कांग्रेस के पूर्व वरिष्ठ नेता व आध्यात्मिक गुरु आचार्य प्रमोद कृष्णम को कांग्रेस ने पार्टी से छह साल के लिए निष्कासित कर दिया है। जिसके बाद उनकी पहली प्रतिक्रिया आई है। आचार्य ने Rahul Gandhi को टैग करते हुए कहा कि ”राम और राष्ट्र पर समझौता नहीं किया जा सकता।”

उल्लेखनीय है कि Acharya Pramod Krishnam कांग्रेस के एक प्रभावशाली नेताओं में गिने जाते रहे हैं। कांग्रेस की टिकट पर लखनऊ सीट से उन्होंने 2019 लोकसभा चुनाव भी लड़ा था। कांग्रेस की मौजूदा छवि से विपरीत आचार्य प्रमोद पार्टी में हिंदुवादी लीडरशीप के प्रतीक के रूप में जाने जाते थे। हाल में जब कांग्रेस ने राम मंदिर का निमंत्रण ठुकराया तब आचार्य ने राहुल गांधी व कांग्रेस पर लगातार टिप्पणी की थी। जिससे नाराज कांग्रेस नेतृत्व ने उन्हें पार्टी से छह साल के लिए बाहर कर दिया।

कांग्रेस महासचिव (संगठन) के.सी. वेणुगोपाल ने एक बयान में कहा कि अनुशासनहीनता और बार-बार पार्टी विरोधी टिप्पणियों की शिकायतों को ध्यान में रखते हुए पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने प्रमोद कृष्णम को तत्काल प्रभाव से छह साल की अवधि के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया है। अब निष्कासन के बाद आचार्य प्रमोद का पहला बयान सामने आया है। आचार्य ने अपना पहला रिएक्शन देते हुए राहुल गांधी पर तंज कसा है।

आचार्य प्रमोद कृष्णम निष्कासन
आचार्य प्रमोद कृष्णम निष्कासन

प्रमोद कृष्णम ने अपने एक्स हैंडल पर राहुल गांधी को टैग करते हुए कहा, राम और राष्ट्र पर समझौता नहीं किया जा सकता। वहीं आचार्य के पोस्ट के बाद कुमार विश्वास ने भी कांग्रेस पर हमला बोला है। उन्होंने एक पोस्ट में तुलसीदास की पंक्तियां लिखते हुए कांग्रेस को राम को प्यार न करने वाला बताया।