हल्द्वानी ब्रेकिंग : बनभूलपुरा हिंसा के मास्टमाइंड अब्दुल मलिक से होगी 2 करोड़ 44 लाख की वसूली

हल्द्वानी समाचार | बनभूलपुरा हिंसा के बाद उपद्रवियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस शहरभर में छापे की कार्रवाई कर रही है। पुलिस ने 25 से…

हल्द्वानी ब्रेकिंग : बनभूलपुरा हिंसा के मास्टमाइंड अब्दुल मलिक से होगी 2 करोड़ 44 लाख की वसूली

हल्द्वानी समाचार | बनभूलपुरा हिंसा के बाद उपद्रवियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस शहरभर में छापे की कार्रवाई कर रही है। पुलिस ने 25 से ज्यादा लोगों को सीसीटीवी फुटेज के आधार पर गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं जिलाधिकारी वंदना ने कुल 127 शस्त्र लाइसेंस अगले आदेश तक रद्द कर दिये हैं।

हल्द्वानी हिंसा बनभूलपुरा कांड के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक से हिंसा के दौरान हुए नुकसान की वसूली की जाएगी। हिंसा के दौरान हुई संपत्ति के नुकसान पर नगर निगम ने अब्दुल मलिक के नाम 2 करोड़ 44 लाख का वसूली नोटिस जारी किया है। सोमवार को नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय ने लिखित नोटिस जारी किया है। वसूली की रकम को जमा करने के लिए 15 फरवरी तक का समय दिया गया है।

नोटिस में कहा गया है कि मलिक का बगीचा में किए गए अतिक्रमण को हटाने की कार्रवाई के दौरान हुई हिंसा और उपद्रव में नगर निगम की संपत्तियों को भारी नुकसान पहुंचा है। मौके पर मौजूद ट्रैक्टर, जीप के साथ ही लोडर वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया। अब इसकी वसूली के लिए निगम ने उपद्रव के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक को नोटिस जारी कर दिया है।

सोमवार को जारी नोटिस में कहा गया है कि राज्य सरकार की जमीन को खाली करने के लिए कार्रवाई से पहले नोटिस जारी कर दिया था। इसके बावजूद क्षेत्र से अतिक्रमण नहीं हटाया गया। वहीं अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान नगर निगम, पुलिस और प्रशासन की टीम पर समर्थकों के साथ हमला किया गया। इस दौरान निगम की एक दर्जन से ज्यादा संपत्तियों को क्षतिग्रस्त किए जाने के साथ ही लूट लिया गया। मलिक को आरोपी के रूप में नामजद किया गया है।

नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय ने बताया कि, बनभूलपुरा हिंसा में ट्रैक्टर, लोडर वाहन, कूडा गाडियों, महेंद्रा बोलेरो वाहन, यूटीलिटी वाहन और उपकरणों को नुकसान पहुंचा है। अब निगम ने संपत्तियों को आंकलन कर 2.44 करोड की संपत्ति का नुकसान होने का अनुमान लगाया है। इसे जमा करने लिए 15 फरवरी तक का समय दिया गया है। इसके बाद वसूली राशि जमा नहीं किए जाने पर विधिक कार्रवाई किए जाने की चेतावनी दी गई है। धनराशि निर्धारित समय में जमा नहीं किए जाने पर आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।