लापरवाही : हाईवे पर बिछा दी पाइप लाइनें, लीकेज से तलैया बन गई सड़क

News intro: कहते हैं कि किसी बात की हद भी होती है, लेकिन अल्मोड़ा—भवाली—हल्द्वानी हाईवे पर सुयालबाड़ी से कुछ आगे सड़क की दशा देख आप…

लापरवाही : हाईवे पर बिछा दी पाइप लाइनें, लीकेज से तलैया बन गई सड़क

News intro: कहते हैं कि किसी बात की हद भी होती है, लेकिन अल्मोड़ा—भवाली—हल्द्वानी हाईवे पर सुयालबाड़ी से कुछ आगे सड़क की दशा देख आप कह देंगे कि संबंधित संस्थान ने लापरवाही की तो हद ही पार कर दी है। जहां एक ओर यहां करतियागाड़ के पास पुल बन रहा है, वहीं जल संस्थान ने इस तरह से पाइप लाइन बिछा डाली कि सड़क में जहां—तहां रिसते पाइपों से जल—भराव हो चुका है। तलैया बने इस सड़क मार्ग से गुजरना अब खतरे से खाली नहीं रहा है। पढ़िये मौके से सीएनई संवाददाता अनूप सिंह जीना की यह रिपोर्ट —

सीएनई रिपोर्टर सुयालबाड़ी/गरमपानी। अल्मोड़ा—हल्द्वानी हाईवे पर सुयालबाड़ी से आगे करतियागाड़ के निकट ​जल संस्थान की लापरवाही से सड़क तलैया में ​तब्दील हो चुकी है। पूरी सड़क पर पड़ चुके बड़े—बड़े गड्ढे संभावित दुर्घटना को निमंत्रण दे रहे हैं।

लापरवाही : हाईवे पर बिछा दी पाइप लाइनें, जगह—जगह लीकेज
लापरवाही : हाईवे पर बिछा दी पाइप लाइनें, जगह—जगह लीकेज

उल्लेखनीय है कि करतियागाड़ में इन दिनों ऑल ग्रेस डेवलेपर्स (All Grace Developers PVT. LTD.) द्वारा ब्रिज निर्माण का काम चल रहा है। इस सड़क पर जल संस्थान द्वारा पाइप लाइनें भी बिछा दी गई हैं। जो कि नवोदय विद्यालय तक जानी हैं। आरोप है कि गलत ढंग से लाइन बिछाने के चलते जगह—जगह पाइपों से लीकेज हो रही है।

जिस कारण पाइपों से पानी पूरी सड़क पर फैल गया है। कीचड़ व मलबे के साथ पानी मिल जाने से सड़क तलैया बन चुकी है। जगह—जगह जल भराव से गड्ढे भी पड़ चुके हैं। एक हफ्ते से ज्यादा का वक्त गुजरने के बावजूद सड़क को दुरुस्त नहीं किया गया है।

आए दिन रपट रहे दोपहिया वाहन

लिहाजा यहां आए दिन पैदल यात्री और दोपहिया वाहन रपट रहे हैं। बड़े वाहनों का भी दुर्घटनाग्रस्त होने का अंदेशा बना हुआ है। यहां से गुजरने वाले तमाम वाहन चालक संबंधित संस्थान व व्यवस्था को कोस रहे हैं। इसके बावजूद कोई भी कार्रवाई नहीं हुई है।

आज ही निर्देशित करेंगे, तत्काल होगा एक्शन : एसडीएम

करतियागाड़ के पास जल भराव के चलते सड़क की बदहाल दशा को लेकर सीएनई की एसडीएम कोश्याकुटौली विपिन चंद्र पंत से दूरभाष पर वार्ता हुई। एसडीएम ने कहा कि वह तत्काल जल संस्थान के अधिकारियों से इस विषय में बात करेंगे। इस समस्या का शीघ्र निस्तारण होगा। वहीं जल संस्थान के अधिशासी अभियंता बिष्ट ने कहा कि जल्द ही पाइपों को दुरुस्त करवा दिया जायेगा।