अल्मोड़ा : दूरस्थ ग्राम कोठल में अकेले रह रही थी आमा, सहारा बनी पुलिस

📌 थानाध्यक्ष भतरौजखान ने पूछी खैर खबर 👉 जीवन निर्वाह सामग्री राशन व कंबल आदि सप्रेम भेंट सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अल्मोड़ा रामचन्द्र…

दूरस्थ ग्राम कोठल में अकेले रह रही थी आमा, सहारा बनी पुलिस

📌 थानाध्यक्ष भतरौजखान ने पूछी खैर खबर

👉 जीवन निर्वाह सामग्री राशन व कंबल आदि सप्रेम भेंट

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अल्मोड़ा रामचन्द्र राजगुरु के निर्देशों पर पुलिस द्वारा अकेले रह रहे बुजुर्गों का एक अभियान चला विशेष ध्यान रखा जा रहा है। आज भतरोज्खान पुलिस ने एक 90 साल की आमा की मदद कर उनका आशीर्वाद लिया।

कोठल की आमा की मदद को आई पुलिस

पुलिस कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार थानाध्यक्ष भतरौजखान मदन मोहन जोशी को जानकारी प्राप्त हुई कि राजस्व क्षेत्र से पुलिस क्षेत्र में सम्मिलित हुए ग्राम कोठल में एक 90 वर्षीय बुजुर्ग माता जी देवुली देवी अकेली रहती है। परिवार में इनका कोई नही हैं। उक्त ग्राम थाना क्षेत्र से काफी दूरस्थ दुर्गम में है।

हर संभव मदद का दिया भरोसा

थानाध्यक्ष भतरौजखान पुलिस टीम के साथ आमा के घर पहुंचे और माता जी से कुशल क्षेम ली। जानकारी प्राप्त करते हुए उनकी स्वास्थय सहित अन्य समस्याओं के बारे में पूछा गया और बताया कि किसी भी प्रकार की समस्या होने पर भतरौजखान थाने में सूचना भिजवाने तथा हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया।

भतरौजखान पुलिस द्वारा आमा को जीवन निर्वाह सामग्री राशन, कंबल व अन्य आवश्यक सामग्री सप्रेम भेंट की गयी तथा भविष्य में भी इसी तरह ध्यान रखने का भरोसा दिया गया। पुलिस से परिजनों जैसा प्यार पाकर खुशी से आमा की आंखें नम हो गई और उनके द्वारा पुलिस टीम को सदा खुश रहने का आशीर्वाद दिया गया।

महिला जज ने चीफ जस्टिस से मांगी इच्छा मृत्यु, CJI ने इलाहाबाद हाई कोर्ट से तलब की रिपोर्ट