केरल: ईसाई प्रार्थना सभा में धमाके , ​महिला की मौत, 02 दर्जन से अधिक घायल

CNE DESK/केरल के एर्नाकुलम शहर में आज सुबह ईसाई प्रार्थना सभा के दौरान हुए विस्फोट में एक महिला की दर्दनाक मौत हो गई जबकि करीब…

केरल : ईसाईयों की प्रार्थना सभा में हुए विस्फोट

CNE DESK/केरल के एर्नाकुलम शहर में आज सुबह ईसाई प्रार्थना सभा के दौरान हुए विस्फोट में एक महिला की दर्दनाक मौत हो गई जबकि करीब 02 दर्जन लोग घायल हैं। यहां लगातार तीन धमाकों की सूचना है। एर्नाकुलम में जहां धमाका हुआ है, उसके आसपास बड़ी संख्या में यहूदी समुदाय के लोग रहते हैं। केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने घटना पर गहरा दु:ख प्रकट करते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने सीएम से बात की। यह घटना तब हुई है जब यहां लगातार हमास के समर्थन में कुछ संगठनों द्वारा रैलियां निकाली जा रही हैं।

मिली जानकारी के अनुसार आज कलामासेरी में स्थित कन्वेंशन सेंटर यहोवा में प्रार्थना चल रही थी। इसी दौरान सुबह के समय अचानक विस्फोट से अफरा—तफरी मच गई। एक के बाद एक तीन विस्फोट हुए। इस दौरान आग भी लग गई। जिसमें झुलसने से एक महिला की मौत हो गई।उधर स्थानीय लोगों का कहना है कि कन्वेंशन सेंटर में ईसाई समाज का 03 दिवसीय कार्यक्रम था। जिसके अंतिम दिवस आज सुबह प्रार्थना चल रही थी। धमाका सुबह 09 के बाद हुआ। उस समय हॉल में 02 हजार से अधिक लोग मौजूद थे।

विस्फोट के समय ईसाई प्रार्थना सभा में थे 02 हजार लोग

विस्फोट को लेकर आधिकारिक बयान का इंतजार है। सूत्र बता रहें हैं कि विस्फोट के पीछे किसी संगठन का हाथ हो सकता है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने भी घटना का संज्ञान लिया है।जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को सौंपी जायेगी। फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंच चुकी है।

मामले को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की केरल के मुख्यमंत्री पिनारई विजयन से बात हुई है। केरल के उद्योग मंत्री और कलामासेरी से विधायक पी राजीव का कहना है कि मामले की गहनता से जांच चल रही है। फिलहाल कुछ स्पष्ट रूप से कहा नहीं जा सकता है।

एर्नाकुलम में ​हमास के समर्थन में निकली थी रैलियां, अब विस्फोट

यहां गौरतलब है कि करीब दो दिन पहले एर्नाकुलम में हमास के समर्थन में एक रैली भी हुई थी। यहां कई दिनों से फिलिस्तीन के समर्थन में कई संगठन रैलियां निकाल कर रहे हैं। दो दिन पहले एर्नाकुलम में हमास के समर्थन में रैली निकली थी। मल्लपुरम में भी फिलिस्तीन के समर्थन रैली का आयोजन हुआ था। जिसमें हमास नेता खालिद मशेल वर्चुअली भी मौजूद रहा।

एक ही परिवार के सात लोगों ने की सामूहिक आत्महत्या