हल्द्वानी : बच्चों को लेकर जा रही स्कूल बस में लगी आग, मोटाहल्दू के पास बड़ा हादसा होने से टला

हल्द्वानी समाचार | आज सुबह लालकुआं से हल्द्वानी की ओर जा रही शैंम्फोर्ड सीनियर सेकेंडरी स्कूल की बस में अचानक मोटाहल्दू के पास आग लग…

हल्द्वानी : बच्चों को लेकर जा रही स्कूल बस में लगी आग, मोटाहल्दू के पास बड़ा हादसा होने से टला

हल्द्वानी समाचार | आज सुबह लालकुआं से हल्द्वानी की ओर जा रही शैंम्फोर्ड सीनियर सेकेंडरी स्कूल की बस में अचानक मोटाहल्दू के पास आग लग गई। वाहन चालक ने बस को रोका और आसपास के लोगों की मदद से सभी बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाला।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, स्कूल बस संख्या UK-04PA- 1813 जिसको चालक खेम सिंह पुत्र गौरी सिंह निवासी मोती नगर और अटेण्डेण्ट दीपा अधिकारी तथा कुल 37 बच्चों को बिन्दुखत्ता, हिरन बाबा मंदिर हल्दूचौड क्षेत्र से शेमफोर्ड स्कूल ले जा रही थी। कि अचानक मोटाहल्दू के पास रिलायंस पेट्रोल पम्प के पास हाईवे पर स्कूल बस में आग लग गई।

हल्द्वानी : बच्चों को लेकर जा रही स्कूल बस में लगी आग, मोटाहल्दू के पास बड़ा हादसा होने से टला

सूचना पर डी.आर. वर्मा प्रभारी निरीक्षक कोतवाली लालकुआं पुलिस टीम, फायर बिग्रेड टीम एवं सोमेन्द्र सिंह चौकी प्रभारी हल्दुचौड़ मौके पर पहुंचे और स्थानीय लोगों की मदद से स्कूल बस में सवार कुल 37 बच्चों को रेस्क्यू कर सकुशल बस से बाहर निकाला।

आग को बुझाने में पुलिस टीम के आलावा मौके पर मौजूद स्थानीय व्यक्तियों में से जगदीश सिंह चौहान पुत्र हुकम सिंह तथा मनोज शर्मा उर्फ़ मन्नू अन्य व्यक्तियों ने रेस्क्यू में पुलिस का सर्वाधिक सहयोग किया। सूचना पर तत्काल शेमफोर्ड स्कूल की प्रधानाचार्य, डायरेक्ट भी मौके पर पहुंचे।

पुलिस ने स्कूल की दूसरी बस मंगावाकर बच्चों को सकुशल स्कूल भिजवाया गया तथा यातायात व्यवस्था को सुचारू किया। चालक ने बताया कि बस में अचानक इंजन की तरफ से आग लगी। दमकल की गाड़ी ने आग पर काबू पाया लेकिन तब तक बस पूरी तरह जल चुकी थे।

स्कूली बच्चों को बस से रेस्क्यू कर निकालने वाली टीम में डी.आर. वर्मा प्रभारी निरीक्षक कोतवाली लालकुआं के नेतृत्व में सोमेंद्र सिंह चौकी प्रभारी हल्दुचौड़, उ.नि. गिरीश सिंह (प्रशि.), हेड कांस्टेबल राजेंद्र प्रसाद, कांस्टेबल अनिल शर्मा, कांस्टेबल प्रहलाद, कांस्टेबल जितेंद्र सिंह, कांस्टेबल सुबोधकांत तथा कांस्टेबल आनंदपुरी शामिल थे।