हल्द्वानी : पीलीकोठी में अतिक्रमण ध्वस्त, इन पांच चौराहों पर लगे लाल निशान

हल्द्वानी समाचार | अतिक्रमण पर एक बार फिर कार्रवाई शुरू हो गई है। प्रशासन, नगर निगम और लोनिवि की टीम ने मंगलवार देर शाम पीलीकोठी…

Haldwani: Encroachment demolished in Pilikothi

हल्द्वानी समाचार | अतिक्रमण पर एक बार फिर कार्रवाई शुरू हो गई है। प्रशासन, नगर निगम और लोनिवि की टीम ने मंगलवार देर शाम पीलीकोठी में पूर्व में चिह्नित अतिक्रमण को ध्वस्त किया। जबकि, एक टीम ने दिनभर शहर के पांच चौराहों के चौड़ीकरण की जद में आ रहे करीब दो दर्जन मकान/दुकानों पर अतिक्रमण का लाल निशान लगाया।

डीएम वंदना सिंह के निर्देश पर लोक निर्माण विभाग (लोनिवि) ने पूर्व में शहर के करीब 16 चौराहे-तिराहों के चौड़ीकरण का प्रस्ताव तैयार किया था। जिसे मंजूरी मिलने के बाद बीते साल 29 दिसंबर से चौड़ीकरण की कवायद शुरू की गई थी। जिसके तहत मंगलपड़ाव से रोडवेज चौराहे तक सड़क के दोनों किनारों पर 12-12 मीटर के दायरे में अतिक्रमण चिह्नित किया गया था। इसके बाद पीलीकोठी और लालडांठ में अतिक्रमण चिह्नित किया गया था। इसी आधार पर मंगलवार की शाम छह बजे सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह और लोनिवि के अधिशासी अभियंता अशोक चौधरी पीलीकोठी पहुंचे। यहां दुकानों की दीवारें और सड़क के किनारे बने रैंप जेसीबी से तोड़े गए।

राजस्व अभिलेखों के आधार लगे निशान

लोनिवि के सहायक अभियंता ललित तिवारी ने बताया कि जिन चौराहों और तिराहों पर मंगलवार को अतिक्रमण के लाल निशान लगाए गए हैं उनकी पैमाईश राजस्व विभाग के अभिलेखों के अनुसार की गई है। पूर्व में जिन जगहों पर निशान लगाए गए हैं उनपर 12-12 मीटर पैमाईश रखी गई थी। ऐसे में राजस्व विभाग के अभिलेखों में भी इससे थोड़ा कम या अधिक चौड़ाई हो सकती है। बताया कि कितना हिस्सा टूटेगा और कब टूटेगा, इसपर जल्द निर्णय लिया जाएगा।

इन जगहों पर लगाए लाल निशान

टीम ने ऊंचापुल चौराहा, कुसुमखेड़ा चौराहा, लामाचौड़ चौराहा, कठघरिया चौराहा, हनुमान मंदिर चौराहा आरटीओ रोड पर लाल निशान लगाए है।

पंकज उपाध्याय, नगर आयुक्त, नगर निगम हल्द्वानी ने कहा, डीएम के निर्देश पर चौड़ीकरण की सीमा में आने वाली राजकीय/निजी संपत्ति को मंगलवार को चिह्नित की गई है। संबंधितों को अपना पक्ष रखने का मौका देते हुए चौड़ीकरण की कार्रवाई की जाएगी।