संशय खत्म : कोरोना से नहीं मरा था दून चिकित्सालय में कल बुजुर्ग मरीज, रिपोर्ट निगेटिव, नैनीताल निवासी युवक की रिपोर्ट का इंतजार

देहरादून। कल सुबह दून मेडिकल कालेज चिकित्सालय में दो संदिग्ध कोरोना मरीजों की मौत के रहस्य से धीरे धीरे पर्दा उठने लगा है। इनमें से…

सीडीओ और एडीएम का बदला तैनाती स्थल

देहरादून। कल सुबह दून मेडिकल कालेज चिकित्सालय में दो संदिग्ध कोरोना मरीजों की मौत के रहस्य से धीरे धीरे पर्दा उठने लगा है। इनमें से एक 75 वर्षीय बुजुर्ग रमेश चंद्र पांडे थे। पांडे मूलत: पिथौरागढ़ के रहने वाले थे। उनकी मृत्यु के बाद उनका सैंपल कोरोना जांच के लिए भेजा गया था। उकी रिपोर्ट आ गई है और इस रिपोर्ट के आने के बाद राजधानी प्रशासन ने राहत की सांस ली है। दरअसल रमेश चंद्र पांडे की कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। अब प्रशासन को बेसब्री से दूसरे युवक की टेस्ट रिपोर्ट का इंतजार है।

जुड़िये हमारें व्हाट्सएप्प ग्रुप से,
https://chat.whatsapp.com/
FTYwl1FqGnrLIxCmiP9RHe

दून में कोरोना मामलों के समन्वयक और स्वास्थ्य विभाग के अपर सचिव युगल किशोर पंत ने रमेश चंद्र पाडें की कोरोना जांच रिपोर्ट निगेटिव आने की पुष्टि की है। हालांकि पांडे की ट्रेवल हिस्ट्री थी और वे पिछले मा​ह ही दुबई से लौटे थे इसके बाद दून में अपने बेटे के घर पर रह रहे थे। उन्हें प्रशासन ने क्वारेंटाइन भी करवाया था। लेकिन दो दिन पहले अचानक उनकी हालत बिगड़ी और चिकित्सालय में कल तड़के उन्होंने दम तोड़ दिया। इसके बाद चर्चा शुरू हो गई कि पांडे की मौत कोरोना से तो नहीं हुई है। प्रशासन ने उनके शव को परिजनों को सौंपने के बजाए संरक्षित रख लिया था। अब कोरोना का संशय समाप्त हो जाने के बाद उनके शव को परिजनों को सौंपा जाएगा। दूसरी और नैनीताल निवासी युवक की जांच रिपोर्ट भी आज शाम तक आ जाने की उम्मीद है।

https://youtu.be/ky53bpkBdx4

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *