बागेश्वर: टनकपुर—बागेश्वर रेल मार्ग निर्माण की मांग मुखर

👉 संघर्ष समिति ने किया प्रदर्शन, बड़े आंदोलन की धमकी सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर: टनकपुर-बागेश्वर रेल मार्ग निर्माण संघर्ष समिति ने सर्वे के बावजूद मार्ग निर्माण…

बागेश्वर: टनकपुर—बागेश्वर रेल मार्ग निर्माण की मांग मुखर

👉 संघर्ष समिति ने किया प्रदर्शन, बड़े आंदोलन की धमकी

सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर: टनकपुर-बागेश्वर रेल मार्ग निर्माण संघर्ष समिति ने सर्वे के बावजूद मार्ग निर्माण कार्य शुरू नहीं होने पर नाराजगी जताई है। नाराज लोगों ने प्रदर्शन किया। केंद्र सरकार ने जल्द शिलान्यास करने की मांग की है। साथ ही चेतावनी दी कि यदि उनकी मांगों की अनदेखी की गई तो आंदोलन का बिगुल एक फिर से फूंक दिया जाएगा।

सामिति से जुड़े लोग रविवार को तहसील परिसर में एकत्रित हुए। यहां नारेबाजी के साथ प्रदर्शन किया। यहां हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि गत वर्ष विधानसभा चुनाव से पहले हल्द्वानी में हुई चुनावी सभा में प्रधानमंत्री ने जल्द रेल मार्ग निर्माण करने की घोषणा की। इसके बाद 29करोड़ की राशि से सर्वे कार्य करवाया, लेकिन सर्वे के बाद निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पाया है। वक्ताओं ने कहा कि उनके पड़ोसी देश चीन ने ल्यासा तक रेल लाइन बिछा दी है। हमारा देश विकास कार्य में लगातार पिछड़ रहा है। उन्होंने केंद्र सरकार ने जल्द निर्माण कार्य शुरू करने की मांग की है। रेल आने के बाद से ही पहाड़ों का विकास होगा। इतना ही नहीं इससे पलायन भी रुकेगा। अध्यक्षता समिति अध्यक्ष नीमा दफौटी ने संचालन प्रताप सिंह गड़िया ने की। इस मौके पर गीता रावल, इंदिरा जोशी, केशवानंद जोशी, हयात मेहता, बंशीधर जोशी, रतन सिंह शाही, प्रवीण दफौटी, सरस्वती गैलाकोटी, विक्रम द्योड़ी, सुनीता टम्टा, ललिता असवाल, तायरा बानो, भावना रावत आदि मौजूद रहे।