कोरोना के एक्टिव केसों में फिर होने लगी बढ़ोत्तरी, बीते 24 घंटों में देश में 501 मौतें

सीएनई रिपोर्टर कोरोना संक्रमण अब दोबारा रफ्तार पकड़ना शुरू कर रहा है। दिल्ली में आज कोरोना से 02 लोगों की मौत हो गई है। नवंबर…

कोरोना से देश में पिछले 24 घंटे में सात मरीजों की मौत, पढ़ें अपडेट

सीएनई रिपोर्टर


कोरोना संक्रमण अब दोबारा रफ्तार पकड़ना शुरू कर रहा है। दिल्ली में आज कोरोना से 02 लोगों की मौत हो गई है। नवंबर माह में कोरोना से पहली बार मौतें हुई हैं।

हालांकि कहा जा सकता है कि यह आंकड़ा बहुत कम है, लेकिन विशेषज्ञों की मानें तो कोरोना संक्रमण की नई लहर की इसे शुरूआत के रूप में भी देखा जा सकता है। वहीं देश की बात करें तो आज कोरोना से कुल 501 मौतें हुई हैं। यहां कुल 12 हजार 516 नए मामले सामने आये हैं। भारत में फिलहाल 1,37,416 कोरोना एक्टिव केस मौजूद हैं। वहीं यदि कोरोना जांच की बात करें तो पूरे देश में कोरोना जांचों में कमी आई है।

लापरवाही की बात की जाये तो अधिकांश राज्यों में लोग अब कोरोना को लेकर सावधानी नहीं रख रहे हैं। शासन—प्रशासन भी उदासीनता बरत रहा है। चिकित्सा विज्ञानियों का कहना है कि ऐसे समय में यदि कोरोना वायरस सक्रिय हो गया तो बहुत बुरे हालात पैदा हो सकते हैं। वहीं उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 11 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। शुक्रवार को नौ मरीजों को ठीक होने के बाद घर भेजा गया है। सक्रिय मरीजों की संख्या 147 हो गई है।

वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की शुक्रवार 12 नवंबर की रिपोर्ट को यदि देखें तो आंकड़ों के मुताबिक भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 12,516 नए मामले सामने आए हैं, 501 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। पिछले 24 घंटे में 13,155 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं। कोरोना से कुल मौतों का आंकड़ा 4,62,690 है। वहीं कुल मामले 3,44,14,186 है। रिकवरी की कुल संख्या 3,38,14,080 है। देश में कुल वैक्सीनेशन का आंकड़ा 1,10,79,51,225 है।

यह भी उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने हाल में एक महीने तक चलने वाले हर घर दस्तक अभियान की शुरूआत की थी, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि वैक्सीनेशन से कोई भी व्यक्ति वंचित नहीं रहे। दिल्ली सरकार द्वारा जारी एक पोस्टर के मुताबिक, अभियान 12 से 27 नवंबर तक चलेगा। पोस्टर के मुताबिक, सभी केंद्रों पर जाकर पहली और दूसरी खुराक लेने की सुविधा उपलब्ध रहेगी, जिसके लिए कोई पूर्व पंजीकरण की जरूरत नहीं होगी।

चलने-फिरने में असमर्थ लोग, नजदीक के वैक्सीनेशन केंद्र जा सकने में अक्षम लोग दिये गये नंबरों पर अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं, जो पोस्टर में साझा किये गये हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी एक आधिकारिक आंकड़े के मुताबिक दिल्ली में आज की तारीख तक कोविड वैक्सीन की दो करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है, जिनमें 77 लाख से अधिक लोगों को दूसरी खुराक दे दी गई है।