भारी बारिश से चारधाम यात्रा पर ब्रेक, गढ़वाल कमिश्नर ने श्रद्धालुओं से कहा- जहां हैं वहीं रहें

देहरादून | उत्तराखंड में मौसम बिगड़ने की वजह से खतरे को देखते हुए चारधाम यात्रा एक दिन के लिए रोक दी गई है। भारी बारिश…

चारधाम यात्रा दो दिन के लिए स्थगित, सीएम ने श्रद्धालुओं से की अपील

देहरादून | उत्तराखंड में मौसम बिगड़ने की वजह से खतरे को देखते हुए चारधाम यात्रा एक दिन के लिए रोक दी गई है। भारी बारिश का रेड अलर्ट देखते हुए आपदा प्रबंधन विभाग ने लोगों को रविवार को किसी भी तरह की यात्रा से बचने की एडवाइजरी जारी की है। गढ़वाल आयुक्त विनय शंकर पांडेय ने भी चारधाम यात्रा एक दिन के लिए स्थगित करने की पुष्टि करते हुए कहा कि यह फैसला तीर्थयात्रियों के जान-माल की सुरक्षा के मद्देनजर लिया गया। जो यात्री जहां हैं वहीं रहें।

आज रविवार को कुमाऊं मंडल के सभी छह जिलों के साथ ही गढ़वाल मंडल में रुद्रप्रयाग, चमोली और पौड़ी में भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। इसके चलते जहां भूस्खलन का खतरा बढ़ गया है तो वहीं नदियों का जलस्तर भी बढ़ सकता है। सचिव आपदा प्रबंधन विनोद कुमार सुमन ने बताया कि रविवार का दिन बारिश के लिहाज से काफी संवेदनशील है। रेड अलर्ट को देखते हुए सभी जिलों में लोगों को किसी भी तरह की यात्रा न करने की सलाह दी गई है। गढ़वाल आयुक्त ने भी एक दिन के लिए चारधाम यात्रा रोकने का निर्देश दिया है।

सीएम ने जिलाधिकारियों को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भारी वर्षा के मद्देनजर सभी संबंधित जनपदों के जिलाधिकारियों को हाई अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए हैं। साथ ही लोगों से सावधानी बरतने तथा सुरक्षित स्थलों पर रहने की अपील की है।

मुख्यमंत्री धामी ने सचिव आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास विनोद कुमार सुमन व आपदा प्रबंधन विभाग से जुड़े अन्य अधिकारियों को यूएसडीएमए के राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र से सभी जनपदों की सतत निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि मार्ग बाधित होने पर तत्काल उसे खुलवाना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने संभावित आपदा के दृष्टिगत सभी संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित करने, खाद्य तथा मेडिकल टीम को हर स्थिति से निपटने के लिए मुस्तैद रहने के निर्देश दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *