उत्तराखंड : प्यार में धोखा, प्रेमिका ने भाई के साथ मिलकर प्रेमी की हत्या की

Mussoorie Kapil Murder Case News | मसूरी में हुई यूपी पुलिस के एसआई के बेटे कपिल की हत्या के मामले का मंगलवार को पुलिस ने…

उत्तराखंड : प्यार में धोखा, प्रेमिका ने भाई के साथ मिलकर प्रेमी की हत्या की

Mussoorie Kapil Murder Case News | मसूरी में हुई यूपी पुलिस के एसआई के बेटे कपिल की हत्या के मामले का मंगलवार को पुलिस ने खुलासा कर दिया। प्यार में धोखा मिलने पर कपिल की प्रेमिका ने ही अपने भाई के साथ मिलकर उसकी हत्या की थी। एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि पुलिस ने हत्यारोपी कपिल की प्रेमिका और उसके सगे भाई को गिरफ्तार कर लिया है।

बता दें कि 10 सितंबर को मसूरी के भट्टा गांव के एक होम स्टे के कमरे में कपिल का शव मिला था। एक दिन पहले कपिल अपनी प्रेमिका कुदरत और उसके भाई अब्दुल्ला के साथ वहां आकर ठहरा था।

कुदरत और कपिल काफी समय से एक दूसरे से प्यार करते थे। कुदरत का कहना है कि कपिल ने उससे शादी का वादा किया था, लेकिन कुछ समय पहले ही उसने कुदरत को मना कर दिया। कहने लगा कि शादी घरवालों की मर्जी से करेगा। आगे पढ़ें…

इस पर कुदरत गुस्सा हो गई और उसने अपने भाई को यह बात बताई। दोनों ने कपिल को मारने की योजना बना ली। 9 सितंबर को दोनों भाई-बहन कपिल को हरिद्वार से उसकी गाड़ी में लेकर आए। तीनों एक कमरे में सो गए। सुबह करीब चार बजे जब कपिल गहरी नींद में सो गया तो अब्दुल्ला ने चाकू से उसकी गर्दन काट दी। इसके बाद दोनों कपिल की कार लेकर हरिद्वार आ गए। यहां कार खड़ी करने के बाद वे दिल्ली चले गए।

प्यार में धोखा मिला तो प्रेमी को उतारा मौत के घाट

आगे विस्तार से…. पूछताछ में कुदरत ने बताया गया कि अब्दुल्ला मेरा सगा भाई है। कपिल चौधरी निवासी न्यू आदर्श नगर रूड़की मुझे दिल्ली में करोलबाग मार्केट में पहली बार करीब दो साल पहले मोबाईल की दुकान में मिला था। जहां से हमारी बातचीत शुरू हुई। हमारी फोन पर काफी बाते होने लगी व हम एक दूसरे को चाहने लगे। कपिल अक्सर दिल्ली आकर मुझ से मिलता रहता था। कपिल ने मुझसे शादी करने का वादा किया था लेकिन अब वह अपने घरवालों के कहने पर कहीं और शादी करने जा रहा था और कह रहा था कि जहां मेरे घरवाले मेरी शादी करेंगे मैं वही शादी करूंगा।

मैं कपिल से बहुत प्यार करती थी तथा उसके द्वारा कही और शादी किये जाने की बात मैंने अपने छोटे भाई अब्दुल्ला को बतायी तो वह बहुत गुस्सा हुआ। इस पर हम दोनों भाई-बहन ने कपिल चौधरी को जान से मारने की योजना बनाई योजना के तहत मैंने कपिल को फोन कर मिलने को कहा तो वह तैयार हो गया तथा हमें हरिद्वार आने को कहां हम दोनों भाई-बहन 08 सितम्बर की शाम को बस से हरिद्वार आ गये थे, जहां पर हमने ऋषिकुल में एक फेरी वाले से घटना को अंजाम देने के लिए एक चाकू खरीदा व अपने पास छुपाकर रख लिया। कुछ देर बाद कपिल अपनी कार लेकर आया तो मैंने कपिल से मसूरी घुमाने के लिए बोला। फिर हम लोग कपिल की कार से उसके साथ हरिद्वार से मसूरी आ गये।

हम लोग 9 सितम्बर को सुबह के समय मसूरी से कुछ पहले भट्टा फॉल के पास होटल में रूके। योजना के तहत मेरे भाई अब्दुल्ला ने रात को समय करीब चार बजे के आस पास गहरी नींद में सोते समय कपिल का चाकू से गला काट दिया। कपिल के मरने के बाद हम दोनों ने उसके शव को बैड के नीचे छुपा दिया तथा खून से सनी चादर, तकिये के कवर व चाकू को हमने होटल के पीछे झाडियों में फेंक दिया। इसके बाद हम लोग कपिल की कार लेकर बिना होटल वालों को बताये वहां से भाग गये।

उसके बाद हमने कपिल की कार हरिद्वार में खड़ी कर दी थी व हम लोग अपने घर दिल्ली चले गये थे। आज हम उसकी कार ले जाने के लिए हरिद्वार वापस आये थे पर पुलिस ने हमें पकड़ लिया। मैं कपिल से बहुत प्यार करती थी, मैंने अपने हाथ की कलाई पर उसका नाम भी लिखा रखा है पर वह मुझे धोखा दे रहा था, जिस कारण गुस्से में आकर मैंने अपने भाई के साथ मिलकर कपिल का चाकू से गला काटकर उसकी हत्या कर दी।

गिरफ्तार अभियुक्त

1- कुदरत पुत्री अबुल बशर निवासी-अबुल फजल एन्क्लेव नगर सनम विहार शाहीन बाग थाना शाहीन बाग दिल्ली, उम्र 20 वर्ष।
2- अब्दुल्ला पुत्र अबुल बशर निवासी अबुल फजल एन्क्लेव नगर सनम विहार शाहीन बाग थाना शाहीन बाग दिल्ली, उम्र 18 वर्ष।

मार्गदर्शन/पर्यवेक्षण अधिकारी:

1- सरिता डोबाल पुलिस अधीक्षक नगर देहरादून
2- अनिल जोशी क्षेत्राधिकारी मसूरी देहरादून

पुलिस टीम में

1-रिटायर्डशंकर सिंह बिष्ट प्रभारी निरीक्षक मसूरी देहरादून ।
2- नंदकिशोर भट्ट प्रभारी SOG देहरादून।
3- व.उ.निरी. गुमान सिंह नेगी, थाना मसूरी देहरादून
4- उप.नि. शोएब अली कोतवाली मसूरी देहरादून ।
5- उप.नि. हर्ष अरोडा SOG देहरादून।
6- उप.नि. रश्मि थाना राजपुर
7-हेड का. किरण SOG
8- कांस्टेबल आशीष SOG
9- कांस्टेबल ललित SOG
10- कांस्टेबल पंकज कुमार SOG
11- कांस्टेबल रविंद्र टम्टा SOG
12- कांस्टेबल अमित SOG
13- कांस्टेबल अरशद थाना पटेल नगर
14- कांस्टेबल अरविंद गोसाई थाना मसूरी
15- कांस्टेबल अजय थाना मसूरी
16- कांस्टेबल मोनू कुमार थाना मसूरी
17- म.का. पुष्पा बोरा थाना मसूरी
18-म. का. मोनिका
19- कानि.अरविन्द
20- कानि. प्रभात जुगरान

नोट :- घटना का अनावरण करने वाली पुलिस टीम को पुलिस उपमहानिरीक्षक/ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून महोदय द्वारा ₹25000/- के पुरस्कार से पुरुस्कृत करने की घोषणा की गई है।

UKSSSC Recruitment : 1402 पदों पर होगी भर्ती, कैलेंडर जारी – Click Now
कढ़ाई में इस तरह बनायें स्वादिष्ट वेज पुलाव Click Now