उत्तराखंड : चाय बागान के पास सिंचाई गूल में मिले महिला और पुरुष के शव

देहरादून | राजधानी देहरादून से सनसनीखेज खबर सामने आ रही हैं, यहां गोरखपुर मार्ग पर दरू चौक में चाय बागान के पास सिंचाई गूल में…

उत्तराखंड : 6 साल के बच्चे की गला घोंटकर हत्या, पॉलीथिन के बैग में मिला शव

देहरादून | राजधानी देहरादून से सनसनीखेज खबर सामने आ रही हैं, यहां गोरखपुर मार्ग पर दरू चौक में चाय बागान के पास सिंचाई गूल में एक महिला और एक पुरुष के शव डूबे मिले। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

बताया जा रहा है कि पूर्व फौजी सुबह टहलने निकले थे। जबकि, महिला कोठी में खाना बनाने जा रही थी। पुलिस किसी वाहन से टक्कर लगने से मौत होना मान रही है। लेकिन, दोनों के शरीर पर चोट के ज्यादा निशान नहीं हैं। इससे उनकी डूबोकर या फिर किसी अन्य तरीके से हत्या करने की भी आशंका जताई जा रही है। दोनों के शवों का डॉक्टर के पैनल से पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

दरअसल, अंबीवाला निवासी पूर्व फौजी संदीप मोहन धस्माना पुत्र मदन मोहन धस्माना रविवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे मॉर्निंग वॉक पर निकले थे। वह अक्सर एक या डेढ़ घंटे में घर वापस पहुंच जाते हैं। रविवार को तीन घंटे बाद भी नहीं पहुंचे। परिजन चिंतित हुए तो उन्होंने आसपास में तलाश की। मगर, उनका कहीं पता नहीं चला। फोन भी नहीं उठ रहा था। इस पर संदीप मोहन की पत्नी ने गांव में ही रहने वाले अपने पिता को फोन कर उनके गायब होने की सूचना दी। उन्होंने भी आसपास के लोगों के साथ मिलकर काफी दूर तक तलाश की। मगर, कोई सफलता नहीं मिली।

इसके बाद उन्होंने अपने एक रिश्तेदार को संदीप मोहन का मोबाइल नंबर दिया, जिसने दिल्ली में अपने एक मित्र के माध्यम से मोबाइल लोकेशन निकलवाई। लोकेशन दरू चौक के पास आई। परिजन इस लोकेशन के आधार पर संदीप को ढूंढते हुए पहुंचे तो देखा कि सिंचाई गूल के पास उनका जूता पड़ा हुआ था।

एक अन्य राहगीर ने देखा कि वहां पर संदीप का मोबाइल पड़ा था। करीब एक मीटर दूर देखा कि संदीप सिंचाई गूल में डूबे हुए थे। उनके पैरों के पास एक महिला भी डूबी थी। दोनों के चेहरे पानी में साफ दिखाई दे रहे थे। इसकी सूचना उन्होंने प्रेमनगर पुलिस को दी। पुलिस मौके पर पहुंची तो पता चला कि यह क्षेत्र वसंत विहार थाने का है।

वसंत विहार थाने से पुलिस पहुंची और महिला के बारे में जानकारी की। महिला की पहचान हेमलता पत्नी सुनील कुमार निवासी पितांबरपुर के रूप में हुई। पता चला कि हेमलता रोज सुबह पास के गांव में एक कोठी में खाना बनाने जाती है। पुलिस ने दोनों के शव कब्जे में लिए और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। शुरुआत में लगा कि दोनों ने आत्महत्या की है। लेकिन, प्राथमिक जांच में पता चला है कि दोनों के बीच कोई संपर्क नहीं था।

ऐसे में इस आशंका को भी कोई बल नहीं मिल रहा। दूसरा पुलिस मान रही है कि पास से गुजर रहे किसी वाहन ने उन्हें टक्कर मारी और दोनों इस गूल में जा गिरे। इससे उनकी मौत हो गई। तीसरी आशंका दोनों की हत्या की भी जताई जा रही है। संदीप की ठोढ़ी पर घिसड़ने के निशान थे। जबकि, महिला के हाथ में चोट थी।

संदीप और हेमलता की मौत के मामले में पुलिस गंभीरता से जांच कर रही है। दोनों के शवों का पैनल से पोस्टमार्टम कराने के लिए भी लिखा गया है। प्रथमदृष्टया यह वाहन से टक्कर का मामला लग रहा है। लेकिन, पुलिस हर दिशा में जांच कर रही है। –अजय सिंह, एसएसपी देहरादून

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *