किच्छा न्यूज़ : कांग्रेसियों पर दर्ज हुए मुकदमों के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का सांकेतिक धरना

किच्छा। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सहित कांग्रेसियों पर दर्ज हुए मुकदमों के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नगर के तमाम स्थानों पर सांकेतिक धरना देते हुए…

किच्छा। पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सहित कांग्रेसियों पर दर्ज हुए मुकदमों के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नगर के तमाम स्थानों पर सांकेतिक धरना देते हुए दर्ज मुकदमे वापस किए जाने तथा कांग्रेसियों का शोषण बंद करने की मांग की। नगर पालिका अध्यक्ष दर्शन कोली के नेतृत्व में तमाम कांग्रेस कार्यकर्ता उनके स्थित आवास पर एकत्रित हुए। जहां उन्होंने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मास्क पहनकर तथा उचित दूरी पर बैठकर धरना दिया। नगर पालिका अध्यक्ष दर्शन कोली ने कहा कि प्रदेश सरकार के इशारे पर प्रशासन द्वारा कांग्रेसियों का उत्पीड़न किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लॉक डाउन के दौरान कांग्रेसियों द्वारा गरीब असहाय लोगों को राशन, खाद्यान्न ,पका भोजन, मास्क तथा सैनिटाइजर आदि का वितरण कर प्रशासन का सहयोग किया जा रहा है। बावजूद इसके प्रशासन द्वारा झूठे मुकदमे दर्ज कर कांग्रेसियों को फंसाने का काम किया जा रहा है। उन्होंने पूर्व स्वास्थ्य मंत्री सहित अन्य कांग्रेसियों पर दर्ज हुए मुकदमे वापस करने की मांग की। इस मौके पर ब्लॉक अध्यक्ष गुड्डू तिवारी, गुरदास कालरा, अशोक चुग, जितेंद्र संधू, जगरूप सिंह गोल्डी, लियाकत अली, आदित्य सिंह, भगवान दास, सोमपाल कोली, संजय सक्सेना, प्रकाश कोहली आदि मौजूद थे। इधर कांग्रेस नगर अध्यक्ष अरुण तनेजा के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यालय पर कार्यकर्ताओं ने सोशल सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए प्रशासन द्वारा दर्ज किए गए मुकदमों की निंदा करते हुए प्रदेश सरकार से मुकदमे वापस लेने की मांग की। उन्होंने कहा कि कांग्रेसियों का उत्पीड़न किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस मौके पर युवा कांग्रेसी नेता बंटी पपनेजा, प्रभात कुमार, विनोद कुमार, भगवान दास आदि मौजूद थे। इधर युवा व्यापार मंडल अध्यक्ष तथा युवा कांग्रेसी नेता दुर्गेश गुप्ता ने भी अपने निवास पर सांकेतिक धरना देते हुए प्रशासन से कांग्रेसियों का उत्पीड़न बंद करने की मांग की। इस मौके पर तस्लीम रजा आदि मौजूद थे। इधर कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता संजीव कुमार सिंह तथा वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पुष्कर राज जैन ने भी प्रशासन की कार्यवाही का कड़ा विरोध करते हुए पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तिलकराज बेहड़, कांग्रेस नगर अध्यक्ष अरुण तनेजा, युवा नेता बंटी पपनेजा सहित अन्य कांग्रेसियों पर दर्ज हुए मुकदमे वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार विपक्ष की आवाज को दबाने का प्रयास कर रहा है परंतु विपक्ष द्वारा जनहित की आवाज को लेकर हमेशा संघर्ष किया जाएगा।