पाताल लोक, यहां जमीन के नीचे रहते हैं इंसान ! दुनियां का अजूबा Coober Pedy

The Craziest Town on the Planet Coober Pedy कई प्राचीन ग्रंथों में पाताल लोक का जिक्र आता है। रामायण काल में भी कहा जाता है…


The Craziest Town on the Planet Coober Pedy

कई प्राचीन ग्रंथों में पाताल लोक का जिक्र आता है। रामायण काल में भी कहा जाता है कि हनुमान जी ने पाताल लोक में जाकर कालनेमी राक्षस का वध किया था, लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह पाताल लोक सिर्फ किस्से कहानियों में नहीं, बल्कि सच में है। जी हां, दक्षिण ऑस्ट्रेलिया का कूबर पेडी टाउन पाताल लोक यानी धरती के नीचे स्थित है। यहां लोग जमीन के ऊपर नहीं, बल्कि नीचे रहा करते हैं।

आपको बता दें कि कूबर पेडी में तमाम लोग Underground Houses में रहते हैं। बाहर से यूं तो यह घर खंडहर जैसे दिखाई देते हैं, लेकिन भीतर से इनका लुक किसी शानदार होटल से कम नहीं रहता है। इन अंडरग्राउंड भवनों में लोगों के रहने की प्रमुख वजह इस गांव में कीमती पत्थर ओपल की कई खदानों का होना है। यहां खुदाई का काम निरंतर चलता रहता है। ऐसे में लोग खुदाई के बाद खाली हुए अंडरग्राउंड खदानों को ही अपना आशियाना बना लेते हैं।

ज्ञात रहे कि ओपल Opel एक दूधिया रंग का कीमती पत्थर होता है, जिसे लोग Ring में लागा अपने हाथों में पहनते हैं। यहां अवस्थिति opal mines के कारण कूबर पेडी गांव को Opal Capital of the World भी कहा जाता है। इस स्थान पर प्रथम बार माइनिंग 1915 में शुरू की गई थी। दरअसल, इतिहास यह है कि ऑस्ट्रेलिया के कूबर पेडी गांव की जमीन रेतीली होने के कारण यहां गर्मी के दिनों में तापमान में जबरदस्त बढ़ोत्तरी हो जाती है। ज​बकि सर्दियों में तापमान एकदम नीचे चला जाता है। यानी यहां न तो गर्मी और ना ही सर्दियों में ठीक से रहा जा सकता है। यही कारण है कि यहां के लोगों ने माइनिंग के बाद खाली हुए खदानों में ही रहना शुरू कर दिया। बताया जाता है कि वर्तमान में यहां खदानों के बीच लगभग डेढ़ से दो हजार घर हैं, जहां पर लोग रहा करते हैं। वर्ष 2021 की गणना के अनुसार यहां रहने वाले नागरिकों की संख्या 1834 है। रोचक बात यह भी है कि dug outs कहे जाने वाले इन खदानों में ‘Pitch Black’ सहित कई hollywood movies की शूटिंग भी हो चुकी है। यहां के निवासियों ने अपने निवास और कार्याल के साथ ही अपने व्यापारिक प्रतिष्ठान भी इसी अंडरग्राउंड कस्बे में बनाये हैं। इस कस्बे में अंडरग्राउंड चर्च, सिनेमाघर, म्यूजियम, आर्ट गैलरीज, बार और होटल भी मौजूद हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *