हल्द्वानी न्यूज : बैलपड़ाव में खुला प्रथम ग्रोथ सेंटर, भगत-डीएम ने किया शुभारंभ

कालाढूंगी/हल्द्वानी। ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत बैलपड़ाव में जनपद के प्रथम ग्रोथ सेन्टर का क्षेत्रीय विधायक बंशीधर भगत व जिलाधिकारी सविन बंसल द्वारा शुक्रवार को…


कालाढूंगी/हल्द्वानी। ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत बैलपड़ाव में जनपद के प्रथम ग्रोथ सेन्टर का क्षेत्रीय विधायक बंशीधर भगत व जिलाधिकारी सविन बंसल द्वारा शुक्रवार को फीता काटकर एवं दीप प्रज्जवलित कर शुभारम्भ किया। उत्तराखण्ड सरकार द्वारा बैलपडाव में संचालित ग्रामीण आजीविका मिशन के अन्तर्गत एलईडी ग्रोथ सेन्टर में वर्तमान में 40 महिलायें एलईडी बल्ब,ट्यूब, लालटेन, एलईडी लडी, एईडी झूमर आदि का निर्माण कर स्वरोजगार अपनाकर आत्मनिर्भरता के साथ अपनी व अपने परिवार की आर्थिकी मजबूत कर रही है।

कार्यक्रम में महिला समूह को सम्बोधित करते हुये बतौर मुख्य अतिथि पूर्व मंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक भगत ने सभी महिलाओं को बधाई देते हुये कहा कि ग्रोथ सेन्टर की स्थापना कि पीछे सरकार की मंशा है कि हम स्वरोजगार अपनाकर अपने पांव पर खडे होेकर राज्य व राष्ट्र विकास मे अपनी भागेदारी निभायें। उन्होनेे कहा आज दौर मे सरकारी नौकरियां कम है इसलिए हम सभी को स्वरोजगार को अपना कर आत्म निर्भर बनना होगा। उन्होेंने कहा जब महिलायें आत्मनिर्भर होगी तभी समाज आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा हम कार्यों को इच्छा शक्ति व लगन से करें तथा गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें।

उन्होेंने महिला समूह द्वारा उत्पादित एलईडी उत्पादों को बाजार उपलब्ध कराने को कहा। उन्होने महिलाओं से अपील की कि स्वरोजगार वह चुने जिसे मन से करें व दक्षता से कर सकें,तभी हम आत्मनिर्भर बन सकेंगे। उन्होंने सभी से अपील की कि कार्यो में सावधानी व सतर्कता बरतें कोरोना काल मे सामाजिक दूरी बनाकर कार्य करें तथा मास्क का प्रयोग करें व दिन मे नियमित साबुन से हाथ धोने की आदत डालें।

ताजा खबरों के लिए जुड़े हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से Click Now

बतौर विशिष्ट अतिथि सम्बोधित करते हुये जिलाधिकारी बंसल ने एलईडी निर्माण से जुड़े सभी समूहों की महिलाओं को बधाई व शुभकामनायें दी। उन्होने कहा ग्रोथ सेन्टर स्थापना का मुख्य उददेश्य महिलाओं को अपने घरेलु दिनचर्या कार्यो के साथ ही परिवार की आर्थिकी मजबूत करना है। उन्होंने कहा समूह एलईडी निर्माण के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी कार्य करना चाहते हैं आगे की अपील की, सरकार व प्रशासन उन्हे हर सम्भव सहायता देगा। उन्होने कहा कि कोरोना के दृष्टिगत सावधानी रखते हुये सोशल डिस्टेसिंग, सेनिटाइजेशन व मास्क का उपयोग करने की अपील की।

मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार ने कहा कि डीएवाई-राष्ट्रीय ग्रामीण मिशन एक महत्वाकाक्षी मिशन है। जिसका उददेश्य ग्रामीण परिवारों को संगठित कर उन्हे रोजगार के स्थायी अवसर उपलब्ध कराना है। उन्होंनेे कहा कि मिशन के अन्तर्गत ग्रामीण स्तर पर गरीब परिवारों की महिलाओं को जोड़कर स्वयं सहायता समूह का गठन किया जाता है। जिनको सरकारी विभागों, बैंक, स्थानीय प्रशासन के साथ सम्पर्क बड़ाकर आजीविका सम्बन्धित विषयों पर गरीब उन्मूलन के लिए कार्य करता हैं।

उन्होंने कहा कि मिशन के लक्ष्य को पूर्ण करने के लिए सरकार द्वारा ग्रामीण उत्पादों की उपलब्धता के आधार पर उन्हें प्रोत्साहन देने एवं समुदाय के लिए रोजगार के अवसर बढाने के उददेश्य से ग्रोथ सेन्टर का निर्माण किया जा रहा है। जिससे ग्रामीण आजीविका और आर्थिकी मजबूत होगी। एनआरएलएम के अन्तर्गत इन ग्रोथ सेन्टरों का संचालन महिलाओें द्वारा सामुहिक रूप से किया जायेगा तथा स्थानीय लोगों को जोडते हुये आर्थिक गतिविधियों को बढावा दिया जायेगा। ग्रोथ सेन्टर जहां एक ओर महिलाओ को आर्थिक रूप से स्वालम्बी बनायेगा वही स्थानीय महिलाओं, युवाओं को रोजगार से जोडंकर पलायन रोकने मे मददगार होगा।

सहायक परियोजना निदेशक संगीता आर्य ने कहा कि महिलाओें द्वारा अपने परम्परागत कार्यों के अतिरिक्त अपनी आर्थिकी मजबूत करने हेतु आजीविका मिशन के अन्तर्गत समूह गठन कर कार्य कर स्वालम्बी बनाना योजना का उददेश्य है। उन्होंने कहा एलईडी ग्रोथ सेन्टर का प्रस्ताव 2019 मे तैयार किया गया था जो कि जनपद नैनीताल का प्रथम ग्रोथ सेन्टर है। जिसमे बैलपडाव के क्षेत्र के समूहों द्वारा किये जा रहे एलईडी निर्माण कार्य को व्यापक रूप देने के लिए प्रशिक्षित समूहों द्वारा क्षेत्रीय अन्य महिला समूहों को प्रशिक्षित भी किया जा रहा है।

ग्रोथ सेन्टर स्थानीय स्तर पर तैयार एलईडी उत्पादों की ब्रान्डिग, पैकिंग एवं मार्केटिंग सेन्टर के रूप मे भी कार्य करेगा। इस ग्रोथ सेन्टर के माध्यम से एलईडी निर्माण कार्य 18स्वयं सहायता समूहों की 82 महिलाओं को प्रशिक्षित किया गया है, जो घर पर रहकर भी एलईडी कार्य कर आय अर्जन कर रही है। उन्होने बताया कि महिलाओं को ग्रोथ सेन्टर के संचालन से एक ऐसा केन्द्र उपलब्ध हो गया है। जहां उन्हें कच्चा माल एवं बाजार सम्बन्धी सभी सुविधायें उपलब्ध हो पायेगी। उन्होंने बताया कि इस ग्रोथ सेन्टर संचालन न्याय पंचायत बैलपडाव में गठित विकास महिला कलस्टर लेबिल फैडरेशन द्वारा किया जायेगा जिसमें 130 समूह और 1149 महिलायें सम्मलित है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता ब्लाक प्रमुख कोटाबाग रवि कन्याल द्वारा की गई। उन्होंने ग्रोथ सेन्टर के शुभारम्भ पर सभी को बधाई दी। कार्यक्रम में प्रधान राजिन्दर कौर, अमिर चन्द्र, देवेेन्द्र कुमार,विधायक प्रतिनिधि मयंक तिवारी, फैडरेशन प्रतिनिधि मनप्रीत कौर, उपजिलाधिकारी विजय नाथ शुक्ल, गौरव चटवाल, खण्ड विकास अधिकारी जीवन राम आर्य, माया गोस्वामी,दुर्गा मेहरा, तेज पाठक सहित स्वयं सहायता समूहों की महिलायें उपस्थित थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *