बागेश्वर: कांग्रेस ने फूंका प्रदेश सरकार का पुतला, प्रशासनिक बदहाली से खफा

👉 जिले में न तो पूरे एसडीएम और न ही तहसीलदार सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर: जिले में प्रशासनिक बदहाली पर कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति जताई है।…

कांग्रेस ने फूंका प्रदेश सरकार का पुतला, प्रशासनिक बदहाली से खफा

👉 जिले में न तो पूरे एसडीएम और न ही तहसीलदार

सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर: जिले में प्रशासनिक बदहाली पर कांग्रेस ने कड़ी आपत्ति जताई है। नाराज कार्यकर्ताओं ने प्रदेश सरकार का पुतला दहन किया। यहां हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि डबल इंजन सरकार की हवा निकल गई है। उन्होंने जल्द व्यवस्था में सुधार नहीं किया तो उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

जिलाध्यक्ष भगवत डसीला के नेतृत्व में कार्यकर्ता बुधवार को एसबीआई तिराहे पर एकत्रित हुए। यहां नारेबाजी के साथ प्रदर्शन किया। प्रदेश सरकार के खिलाफ कड़ी नाराजगी जताई है। वक्ताओं ने कहा कि अधिकारी विहीन जिला मात्र एक पीसीएस अधिकारी के भरोसे चल रहा है। बागेश्वर विधानसभा उपचुनाव जीतने के बाद सरकार ने एडीएम सीएस इमलाल व एसडीएम गरुड़ को कुमाऊं आयुक्त कार्यालय में सबंद्ध कर दिया। बागेश्वर, कपकोट, गरुड़, काड़ा, काफलीगैर, दुग नाकुरी और उप तहसील शामा में केवल एक मात्र पीसीएस अधिकारी के सहारे चल रहा हैं। जिलाधिकारी भी लंबी छुट्टी पर हैं।

मात्र दो नायब तहसीलदारों के भरोसे यहां की तहसीलें चल रही हैं। लोगों को प्रमाण पत्र बनाने में खासी दिक्कत हो रही है। हजारों रुपये खर्च कर जब ग्रामीण तहसील मुख्यालय पहुंच रहे हैं तो उन्हें अधिकारी नहीं मिल रहे हैं। वह खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं। इस तरह की मनमानी कांग्रेस कतई सहन नहीं करेगी। चेतावनी दी कि यदि भाजपा सरकार ने जल्द अधिकारियों व कर्मचारियों की तैनाती नहीं की तो आंदोलन किया जाएगा। इसके बाद उन्होंने प्रदेश सरकार को पुतला दहन किया। इस मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष लोकमणि पाठक, राजेंद्र टंगड़िया, हरीश ऐठानी, भीम कुमार, सुनील भंडारी, राजेंद्र परिहार, देवेंद्र गोस्वामी, गोपाल राम, लक्ष्मी धर्मशक्तू, ललित गिरी, गोकुल परिहार, देवेंद्र परिहार, कवि जोशी तथा अनुपम उपाध्याय,कुंदन गोस्वामी, आदि मौजूद रहे।