बागेश्वर: सीएम धामी ने की कपकोट में कीवी उत्पादन की प्रशंसा

👉 विधायक गड़िया ने भेंट किए कीवी व इसके उत्पाद👉 कीवी मैन भवान सिंह कोरंगा दिल्ली में सम्मानित सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर: कपकोट में कीवी उत्पादन…

सीएम धामी ने की कपकोट में कीवी उत्पादन की प्रशंसा

👉 विधायक गड़िया ने भेंट किए कीवी व इसके उत्पाद
👉 कीवी मैन भवान सिंह कोरंगा दिल्ली में सम्मानित

सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर: कपकोट में कीवी उत्पादन पर प्रदेश के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए इससे क्षेत्र के युवाओं को रोजगार मुहैया कराने के निर्देश जिला उद्यान अधिकारी को दिए। कपकोट के विधायक सुरेश गड़िया के नेतृत्व में उद्यान विभाग ने मुख्यमंत्री को देहरादून में कीवी व इससे बने उत्पाद भेंट किए। मुख्यमंत्री ने कहा कि काश्तकारों के प्रयासों से वोकल फॉर लोकल को बढ़ावा मिल रहा है।

कपकोट के विधायक सुरेश गड़िया ने देहरादून में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को बागेश्वर के कपकोट में उत्पादित कीवी फल व उससे बनी जैम, चटनी, स्क्वैश व अचार भेंट किया। जिला उद्यान अधिकारी आरके सिंह ने मुख्यमंत्री को बताया कि प्रशासन व सरकार के सहयोग से मोंटी, ब्रूनो, एलिसन व हेवार्ड प्रजाति के उत्पादन व जिला योजना के तहत कीवी मिशन योजना में नई पौध तैयार कराई जा रही है। कहा कि इससे स्वरोजगार को बढ़ावा मिल रहा है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कपकोट में कीवी उत्पादित होने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि कीवी स्वास्थ्य की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है तथा इससे रोजगार के साधन बढ़ेंगे।

उन्होंने कहा कि इसे वृहद स्तर पर रोजगार के रूप में उत्पादित करने पर सरकार हर संभव सहायता प्रदान करेगी। विधायक सुरेश गड़िया ने बताया कि जनपद में कीवी उत्पादन के बेहतर परिणाम मिलने पर मुख्यमंत्री ने प्रशंसा करते हुए कहा कि इस तरह की अन्य योजनाओं के लिए भी हरसंभव सहायता प्रदान की जाएगी। इस दौरान सहायक उद्यान अधिकारी कुलदीप जोशी, सहायक विकास अधिकारी उद्यान शैलेश तिवारी, उद्यान सहायक कुंदन दानू आदि उपस्थित थे।
कीवी मैन भवान सिंह दिल्ली में सम्मानित

बागेश्वर: प्रदेश में कीवी मैन के नाम से जाने जाने वाले शामा निवासी भवान सिंह कोंरगा को भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान पूजा नई दिल्ली ने डिस्ट्रिक मिलियनेययर फार्मर अवार्ड 2023 से सम्मानित किया है। यह सम्मान उन्हें कीवी उत्पादन में उत्कृष्ट कार्य करने पर दिया गया है। मिलियनेशर फॉर्मर ऑर्प इंडिया का पुरस्कार पाने वाले वे जिले के पहले किसान हैं। आठ नौ दिसंबर को दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में उन्हें सम्मानित किया गया।इसमें देशभर के किसान शामिल रहे।