MP के हरदा में पटाखा फैक्ट्री में ब्लास्ट, 6 लोगों की मौत, 50 से अधिक घायल

Madhya Pradesh News | मध्य प्रदेश के हरदा जिले में पटाखा की एक फैक्ट्री से भीषण विस्फोट हुआ है। ये विस्फोट इतना भीषण था कि…

Blast in firecracker factory in Harda, MP, 6 dead, more than 50 injured

Madhya Pradesh News | मध्य प्रदेश के हरदा जिले में पटाखा की एक फैक्ट्री से भीषण विस्फोट हुआ है। ये विस्फोट इतना भीषण था कि पूरा इलाका जलकर खाक हो गया है। इसमें छह लोगों की मौत हो गई, जबकि 59 लोग झुलस गए हैं। जिन्हें अस्पताल पहुंचाया गया है। इस घटना को लेकर मुख्यमंत्री ने आपात बैठक बुलाई है और अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए हैं।

पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे हुए हैं और आग पर काबू पाने का प्रयास किया जा रहा है। एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीमें अलग-अलग जिलों से हरदा पहुंच रही हैं। इसके अलावा 50 एम्बुलेंस भी हरदा पहुंच गई हैं। वहीं मुख्यमंत्री मोहन यादव ने गृह सचिव से पूरी घटना की रिपोर्ट मांगी है।

हालांकि इस घटना ने एक बार रिहायशी इलाकों में पटाखा फैक्ट्री स्थापित होने पर सवाल खड़े हो गए हैं। अभी भी वहां चिंताजनक स्थिति बनी हुई है। हरदा के आस-पास जितने भी जिले हैं, वहां से दमकल की गाड़ियों को रवाना किया गया है।

जानकारी के मुताबिक, बैरागढ़ इलाके में आसपास के घरों को भी बहुत नुकसान पहुंचा है। इस इलाके में छतों पर अवैध तरीकों से पटाखे बनाए जाते हैं। इसके अलावा बताया जा रहा है कि हादसे के समय 50-60 लोग मौजूद थे। अभी भी ऐसी आशंका है कि लोग वहां फंसे हुए हैं।

हरदा जिले के कलेक्टर ने बताया, “आज सुबह एक पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट हो गया। बचाव अभियान चल रहा है। छह लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है और 59 अन्य घायल हैं। घायलों का जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है और गंभीर रूप से घायल मरीजों को भोपाल और और इंदौर शिफ्ट किया जा रहा है।

मध्य प्रदेश के मंत्री उदय प्रताप सिंह का कहना है, “हमारी कलेक्टर से बातचीत हुई है। घायलों को होशंगाबाद और भोपाल भेज दिया गया है। अब तक 6 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। एसडीआरएफ की एक टीम यहां मौजूद एसडीआरएफ एडीजी के मार्गदर्शन में काम कर रही है। मौके पर घटना में करीब 60 लोग घायल हुए हैं।

हरदा की घटना पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव का कहना है, ”इस घटना में छह लोगों की मौत हो गई है और 50 से ज्यादा लोग घायल हैं। 50 से ज्यादा एंबुलेंस मौके पर भेजी गईं। हमारे मंत्री उदय प्रताप सिंह, डीजी होम और करीब 400 पुलिस अधिकारी मौजूद हैं।” घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं। हम आग पर काबू पाने और घायलों को तत्काल सहायता प्रदान करने की कोशिश कर रहे हैं। हम मृतकों के परिवारों को 4 लाख रुपये प्रदान करेंगे और घायलों को मुफ्त इलाज दिया जाएगा।