ब्रेकिंग न्यूज : बदरी- केदार मंदिरों के कपाट खुलने की तिथि आगे बढ़ाई, टिहरी के महाराज ने किया ऐलान, जानें क्यां हैं नई तिथियां

देहरादून। टिहरी के के माहाराजा मनुजेंद्र शाह ने भगवान बदरीनाथ और केदारनाथ धामों के कपाट खुलने की नई तिथियों का ऐलान कर दिया है। संस्कृति…

देहरादून। टिहरी के के माहाराजा मनुजेंद्र शाह ने भगवान बदरीनाथ और केदारनाथ धामों के कपाट खुलने की नई तिथियों का ऐलान कर दिया है। संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने एक वीडियो जारी करके उनके हवाले से नई तिथियों के बारे में जानकारी दी है। अब तक के ज्ञात इतिहास में यह पहली बार हो रहा है जब केदारनाथ और बदरीनाथ के कपाट खुलने की तिथियों को आगे खिसकाया जा रहा है। दोनों मंदिरों के रावलों के क्वारेटाइन पर भेज दिए जाने के कारण यह कार्यक्रम परिवर्तन हुआ है।
सतपाल महाराज ने बताया कि बदरीनाथ के कपाट 15 मई को सुबह साढ़े चार बजे खुलेंगे। उन्होंने बताया कि गाढ़ू घड़ा परंपरा के लिए तिल का तेल निकालने की परंपरा पांच मई को होगी। केदारनाथ धाम के कपाट अब 14 मई को खुलेंगे। यमुनोत्री व गंगोत्री धामों के कपाट तय तिथियों पर ही खुलेंगे।
इसी क्रम में मुख्यमंत्री आवास में श्री बदरीनाथ एवं श्री केदारनाथ के संबंध में बैठक की गई। बैठक में टिहरी की महारानी एवं सांसद श्रीमती माला राज्य लक्ष्मी शाह, पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज, मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, डीजीपी अनिल कुमार रतूड़ी एवं सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर उपस्थित थे। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 की परिस्थितियों को देखते हुए भारत सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित किया जाना है। भगवान केदारनाथ के कपाट खुलने के संबंध में भी चर्चा की गई।
हम आपको बता दें कि बदरीनाथ के कपाट पहले 30 अप्रैल को खुलने थे ।अब 5मई को टिहरी राजदरबार में तिल का तेल पिरोया जायेगा । पहले यह कार्यक्रम 25 अप्रैल को निर्धारित था।