Attention : अल्मोड़ा—हल्द्वानी हाईवे में रोकना पड़ रहा यातायात, जानिए वजह

👉 हाई पर लग रहा घंटों जाम, समय से पूर्व निकलें यात्रा पर सीएनई रिपोर्टर, गरमपानी/खैरना। पहाड़ से हल्द्वानी आने—जाने वाले यात्रियों के लिए एक…

अल्मोड़ा—हल्द्वानी हाईवे में रोज रोकना पड़ रहा यातायात

👉 हाई पर लग रहा घंटों जाम, समय से पूर्व निकलें यात्रा पर

सीएनई रिपोर्टर, गरमपानी/खैरना। पहाड़ से हल्द्वानी आने—जाने वाले यात्रियों के लिए एक आवश्यक सूचना है। इन दिनों मेढक पत्थर के पास एनएच द्वारा किए जा रहे सड़क चौढ़ीकरण के कार्य के चलते कुछ समय के लिए यातायात रोकना पड़ रहा है। जिसके चलते संपूर्ण अल्मोड़ा—हल्द्वानी हाईवे (Almora- Haldwani highway) पर कई स्थानों पर करीब एक से दो घंटे रोजाना जाम की स्थिति भी आ रही है। अतएव यदि गंतव्य को जाना है तो तय समय से पहले निकलने का प्रयास करें।

इस वीआईपी हाईवे में घंटों जाम में फंसना आम बात

ज्ञातव्य हो कि पहाड़ी जनपदों को कुमाऊं की व्यापारिक मंडी हल्द्वानी से जोड़ने वाला महत्वपूर्ण हाईवे अल्मोड़ा—हल्द्वानी मार्ग की दशा सुधरने का नाम नहीं ले रही है। आए दिन यहां कहीं न कहीं पहाड़ खिसकने, पत्थर गिरने की घटना आम हो चुकी है। अनेक स्थानों पर यह मार्ग जर्जर हालत पर है। वहीं, सड़क चौड़ीकरण के कार्य के चलते भी लोगों को भारी फजीहत झेलनी पड़ रही है। इस वीआईपी हाईवे में घंटों जाम में फंसे रहना जैसे यहां से गुजरने वाले यात्रियों को नियति बन चुकी है।

अल्मोड़ा—हल्द्वानी हाईवे में रोज रोकना पड़ रहा यातायात

मेढक पत्थर के पास चल रहा काम

उल्लेखनीय है कि अल्मोड़ा—हल्द्वानी हाईवे में टूरिस्ट स्पॉट मेढक पत्थर के पास इन दिनों सड़क चौड़ीकरण का काम चल रहा है। जिस कारण यहां लंबा जाम लग रहा है और यात्रियों को खासी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। लगभग 01 से 02 घंटे का जाम रोजाना लगने की सूचना है। क्वाराब में भी आगे जाने वाले यात्रियों को रोकने की नौबत आ रही है।

जाम के चलते यात्रियों को भारी दिक्कत

जाम के चलते या​त्री काफी परेशानियों का सामना कर रहे हैं। अति आवश्यकीय कार्यों के लिए यात्रा करने वालों को अनावश्यक देरी गंतव्य तक पहुंचने में हो रही है। जाम में फंसने वाले या​त्रियों का कहना है कि जब से इस हाईवे में सड़क चौड़ीकरण का काम शुरू हुआ है तब से तकलीफों का दौर भी चल पड़ा है।

कैंची धाम में आने वाले पर्यटकों से भी समस्या

इसके अतिरिक्त यहां हर छुट्टि वाले दिन कैंची धाम में उमड़ने वाले पर्यटकों की भीड़ भी एक बड़ी समस्या बन चुकी है। हालत यह है​ कि अब स्थानीय लोगों ने तो मंदिर दर्शन तक छोड़ दिया है। जिसका सबसे बड़ा कारण यह है कि यहां हजारों की तादाद में अन्य राज्यों से पर्यटक आने लगे हैं। इतनी लंबी कतारें लगती हैं कि मंदिर दर्शन तक मुश्किल हो जाया करता है। वहीं, बहारी राज्यों से आने वाले पर्यटकों के लिए प्रशासन व पुलिस इतनी मेहरबान है कि उनके आने पर स्थानीय लोगों के लिए सड़क मार्ग अवरूद्ध कर दिया जाता है। जब पर्यटकों की भीड़ उमड़ती है तो हल्द्वानी से वाया रामगढ़ और क्ववारब से वाया मोना होते स्थानीय लोगों को गुजरना पड़ता है। यहां तक कि 5—7 किमी के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को उस दिन एक वाहन तक नसीब नहीं होता। उन्हें पैदल यात्रा करने के लिए मजबूर किया जाता है।

क्या कहते हैं एनएच के अधिकारी

इधर इस संबंध में एनएच के अधिकारियों का कहना है कि इन दिनों जहां सड़क चौड़ीकरण का काम चल रहा है। वह स्थान काफी संवेदनशील है। अतएव यातायात को रोकना मजबूरी है। एनएच के जेई गिरजा किशोर पांडे का कहना है कि नैनीताल से विभाग को रोजाना एक घंटे यातायात रोक सड़क कटान का काम करने की अनुमति 31 तारीख तक के लिए दी गई है। यही कारण है कि सड़क काटान का काम रोज निर्धारित समय सीमा में किया जा रहा है। सम्भावित दुर्घटना से बचने के लिए यातायात रोकना भी पड़ रहा है।