शासन की वादाखिलाफी पर भड़का ​आक्रोश, गुरुजनों ने बांधी काली पट्टी

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा। शिक्षा मंत्री द्वारा सहमति दिये जाने के बावजूद मांगों पर शासनादेश जारी ना होने के विरोध में आज जिले के सभी हाईस्कूल…

गुरुजनों ने बांधी काली पट्टी

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा। शिक्षा मंत्री द्वारा सहमति दिये जाने के बावजूद मांगों पर शासनादेश जारी ना होने के विरोध में आज जिले के सभी हाईस्कूल और इंटर कॉलेज के शिक्षकों ने काली पट्टी बांध कर शिक्षण कार्य कर अपना विरोध दर्ज कराया।

इस अवसर पर जिला मंत्री भूपाल सिंह चिलवाल द्वारा बताया गया की काली पट्टी कार्यक्रम जनपद अल्मोड़ा में शत—प्रतिशत सफल रहा। यदि शिक्षकों की न्यायोचित मांग पर कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाया गया तो आंदोलन को उग्र किया जाएगा।

जिला अध्यक्ष भारतेंदु जोशी ने बताया कि शिक्षा मंत्री की अध्यक्षता में हुई बैठक में जिन बिंदु पर सहमति हुई थी उनके शासनादेश जारी होने तक शिक्षकों का चरणबद्ध आंदोलन जारी रहेगा। आज के विरोध प्रदर्शन को सफल बनाने के लिए जिला कार्यकारिणी ने सभी शिक्षकों का आभार भी व्यक्त किया।

इस मौके पर भारतेंदु जोशी, भूपाल सिंह चिलवाल, हीरा सिंह बोरा, किशन खोलिया, मीनाक्षी जोशी, नितेश कांडपाल, राजू महरा, बीडी पंत, हीरा सिंह डोभाल, जीवन लाल साह, पूरन पांडे, हेम पंत, जीवन तिवारी देवेश बिष्ट, आरएस नयाल, पंकज टम्टा, धन सिंह धौनी, नवीन वर्मा, शैलू वर्मा, विनोद कुमार, महेश भंडारी, राजेंद्र जोशी, वीरेंद्र नेगी, शिवदत्त पांडे, शिवराज बनकोटी, नंदा भाकुनी, ज्योति भारती, मेघा मनराल, इंद्रा अल्मिया, बेबी जैड़ा, पूनम बिष्ट, दिगंबर फुलोरिया, भारत वर्मा, कमलेन्द्र मेहता सहित जिले के सभी राजकीय शिक्षकों ने अपने विद्यालय पहुंच कर कली पट्टी लगा कर विरोध दर्ज कराया। इसके साथ ही विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं एवं संस्कृत प्रतियोगिता मे भी शिक्षक काली पट्टी बांध कर पहुंचे थे।

अक्टूबर में शुरू होगा पंतनगर किसान मेला, स्टाल पंजीकरण शुरू