बागेश्वर: जनता दरबार में 10 लोगों ने रखीं अपने क्षेत्र की समस्याएं

👉 समस्याओं का त्वरित निस्तारण हो: अनुराधा सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर: तहसील सभागार में आयोजित जनता दरबार में दस लोग अपने-अपने क्षेत्र की समस्या लेकर पहुंचे।…

जनता दरबार में 10 लोगों ने रखीं अपने क्षेत्र की समस्याएं

👉 समस्याओं का त्वरित निस्तारण हो: अनुराधा

सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर: तहसील सभागार में आयोजित जनता दरबार में दस लोग अपने-अपने क्षेत्र की समस्या लेकर पहुंचे। इसमें बिजली, पानी, दिव्यांग पेंशन आदि समस्याएं अधिक थीं। जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह दरबार में उठी समस्याओं को प्राथमिकता से दूर करें। एक समस्या दोबारा नहीं आनी चाहिए।

सोमवार को आयोजित दरबार में जिलाधिकारी ने कहा कि अधिकारी हर समस्या के प्रति संवेदनशील रहें। यदि शिकायतें उच्च स्तर की हो तो अधिकारी इसका त्वरित संज्ञान लेते हुए समाधान को उच्चाधिकारियों से पत्राचार करें, शिकायतकर्ता को भी इससे अवगत कराना सुनिश्चित करें। अधिकारी जनता दरबार में उठी समस्याओं का समाधान निश्चित समयावधि में करना सुनिश्चित करें। शिकायतों का निराकरण करना अधिकारियों की जिम्मेदारी है, यदि कोई शिकायतकर्ता शिकायत लेकर कार्यालयों में भी आता है, तो उनकी समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर सुना जाना चाहिए।

दरबार में पीपल चौक मंडलसेरा के ग्रामीणों ने क्षेत्र में पेयजल आपूर्ति सुचारू कराने की मांग रखी। गनीगांव गरुड़ निवासी गोपाल प्रसाद ने पुत्री की दिव्यांग पेंशन लगाने की मांग की। सुरेश पांडे ने बागेश्वर-सोमेश्वर-गिरेछीना मोटर मार्ग का नाम स्व. पत्रकार जगमोहन पांडे करने का मांग रखी। दयालगिरि निवासी मंडलसेरा की भनार तोक को जाने वाले रास्तों में प्रकाश व्यवस्था व मार्ग दुरूस्त रखने एवं मीना देवी की नाले का पानी रास्तों से बहने से गंदा पानी घरों में आने की रखी। लक्ष्मण सिंह निवासी गडेरा फूलई ने आपदा से हुए नुकसान का मौका मुआयना कराते हुए लोगों की समस्याओं का समाधान कराने की मांग की। मंडलसेरा के भैरव दत्त पांडे, नयन सिंह खेतवाल, भुवन चौबे, योगेश पांडे व प्रताप सिंह ने सड़क मार्ग ठीक कराने की मांग रखी।

इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी आरसी तिवारी, अपर जिलाधिकारी एनएस नबियाल, अपर परियोजना निदेशक शिल्पी पंत, उपजिलाधिकारी मोनिका, जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. देवेश चौहान, मुख्य कृषि अधिकारी डॉ गीतांजलि बंगारी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. कमल पंत, समाज कल्याण अधिकारी हेम तिवारी आदि मौजूद रहे।