अल्मोड़ा: कुलपति प्रो. बिष्ट ने की सीएम धामी से शिष्टाचार भेंट

👉 मुख्यमंत्री के साथ विविध मसलों पर मंत्रणा👉 फैकल्टी प्रोग्राम में हिस्सा लेकर लौटे डा. नंदन सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा: सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय अल्मोड़ा के…

कुलपति प्रो. बिष्ट ने की सीएम धामी से शिष्टाचार भेंट

👉 मुख्यमंत्री के साथ विविध मसलों पर मंत्रणा
👉 फैकल्टी प्रोग्राम में हिस्सा लेकर लौटे डा. नंदन

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा: सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय अल्मोड़ा के कुलपति प्रो. सतपाल सिंह बिष्ट ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से शिष्टाचार भेंट की और विवि की संरचना एवं व्यवस्थाओं पर चर्चा की। उधर विश्वविद्यालय की ओर से डा. नंदन सिंह बिष्ट अहमदाबाद में उद्यमिता​ विकास पर आयोजित फैकल्टी प्रोग्राम में हिस्सा लेकर लौट आए हैं। इसके बाद उन्होंने कहा है​ कि एसएसजे विश्वविद्यालय में जल्द उद्यमिता विकास के क्रियाकलाप चलेंगे।

सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय अल्मोड़ा के कुलपति प्रो. सतपाल सिंह बिष्ट ने देहरादून जाकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से शिष्टाचार भेंट की। इस दौरान उन्होंने विश्वविद्यालय की भौतिक संरचना व शैक्षणिक व्यवस्थाओं से सीएम को अवगत कराया एवं विस्तार से चर्चा की। उन्होंने मुख्यमंत्री को विश्वविद्यालय में प्रारंभ किए गए शैक्षणिक व प्रशासनिक सुधारों के बारे में भी बताया।इस पर मुख्यमंत्री ने कुलपति को शोध कार्यों को बढ़ावा, पुस्तकालय के बेहतर रखरखाव, प्रयोगशालाओं में सुधार और छात्र कल्याण से संबंधित सभी गतिविधियों में सहयोग करने का आश्वासन दिया। इस मौके पर प्रो. बिष्ट ने मुख्यमंत्री के अत्यंत सकारात्मक दृष्टिकोण व सहयोगात्मक पहल के लिए विश्वविद्यालय परिवार की ओर से आभार जताया।
एसएसजे विश्वविद्यालय में जल्द चलेंगे उद्यमिता विकास के क्रियाकलाप: डा. नंदन

अल्मोड़ा: उत्तराखंड राज्य सरकार की महत्वकांक्षी योजना देवभूमि उद्यमिता योजना के तहत भारतीय उद्यमिता विकास संस्थान, अहमदाबाद गुजरात के तत्वावधान में 05 से 10 दिसंबर तक आयोजित फैकल्टी मेंटर डेवलपमेंट प्रोग्राम में सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय, अल्मोड़ा की ओर से डॉ. नंदन सिंह बिष्ट ने हिस्सा लिया। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. सतपाल सिंह बिष्ट ने विश्वविद्यालय में उद्यमिता विकास के क्रियान्वयन को लेकर डॉ. नंदन सिंह बिष्ट को नोडल अधिकारी नामित किया था। डॉ. नंदन बिष्ट ने लौटने के बाद बताया मार्च तक सोबन सिंह जीना परिसर में उद्यमिता की दिशा में बेहतर क्रियाकलापों की शामिल कर अंतिम रूप प्रदान किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि देवभूमि उद्यमिता योजना के क्रियान्वयन को लेकर कार्य शुरू किए गए हैं। जिसमें स्थानीय युवाओं को उद्यमिता से जोड़ने, युवाओं एवं जनमानस को रोजगार उपलब्ध कराने, सामुदायिक विकास की अवधारणा को सफल बनाने, प्रशिक्षण कार्यक्रम को संचालित करने का लक्ष्य रखा गया है। साथ ही उद्यमिता विकास को लेकर समिति गठित कर कार्यों में तेजी लाई जाएगी। उन्होंने कहा है कि कुलपति के निर्देशन में उद्यमिता विकास की दिशा में महत्वपूर्ण कार्य किये जायेंगे।