व्यापार मंडल को तोड़ने का कार्य कर रहे कुछ स्वार्थी तत्व : सुशील साह

📌 व्यापारियों के नाम जारी की अपील सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा। व्यापार मंडल अल्मोड़ा के जिलाध्यक्ष सुशील साह ने व्यापार मंडल के बीच चले घमासान के…

सुशील साह

📌 व्यापारियों के नाम जारी की अपील

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा। व्यापार मंडल अल्मोड़ा के जिलाध्यक्ष सुशील साह ने व्यापार मंडल के बीच चले घमासान के बाद पृथक व्यपार मंडल गठन पर अपनी तीखी प्रतिक्रिया दी है। साथ ही तमाम व्यापारियों के नाम संदेश जारी किया है।

निवर्तमान व्यापार मंडल नगर अध्यक्ष अल्मोड़ा व वर्तमान जिलाध्यक्ष सुशील साह ने कहा कि वह सभी व्यापारी बंधुओं से आग्रह करते हैं कि कुछ व्यापारी नेता जो कभी व्यापारी रहे ही नहीं, जिनका पूर्व में कोई भी व्यापार नहीं था। पर व्यापार मंडल के उच्च पदों पर इनका ही कब्जा रहा है। आज सिर्फ अपने स्वार्थ के कारण यह लोग कुछ स्वार्थी तत्वों के साथ मिलकर प्रांतीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल को तोड़ने का कार्य कर रहे हैं।

यह वही लोग हैं जिनको उन्होंने बड़े—बड़े बाजार लगाने और फड़ों से वसूली करने से रोका है। ये इतना भी नीचे गिर सकते है की जब कोरोना जैसी महामारी में जब उन्हेांने बाजार को वन साइड खोलने का निर्णय लिया था तो कुछ व्यापारियों को व्यापार मंडल से बायकॉट करने के लिए भड़काया। सुशील साह ने कहा कि इनकी जब व्यापार मंडल में चलनी बंद हुई तो इन्होंने दूसरा व्यापार मंडल का गठन देवभूमि नाम से कर दिया।

सुशील साह ने कहा कि उन्होंने जो भी कार्य किया है वह व्यापारियों का बायलॉज है। जबकि कुछ लोगों ने अपनी राजनीति के लिए कभी भी बायलॉज को नहीं माना। उन्होंने कहा कि यह कोई राजनीति मंच नही है। वह एक व्यापारी हैं और व्यापारियों का दर्द समझते हैं। सुशील साह ने कहा कि सरकारी सस्ता गल्ला व्यापार संघ के अंतर्गत नहीं आता है। यह पढ़कर ही निर्णय लिया गया था। साह ने कहा कि अगर वह गलत हैं तो सभी व्यापारियों की प्रतिष्ठा को और इस व्यापार मंडल की प्रतिष्ठा को देखते हुए संगठन पर कोई भी आंच आए बिना त्याग पत्र दे देंगे।

सुशील साह ने कहा कि कुछ लोग चाहते हे। कि एक व्यापारी इस संगठन को न चलाये। इनको हमारा बॉयलाज मालूम है इसलिए ये हमसे बात न करके अपना संगठन बनाना चाहते हैं। सुशील साह ने कहा कि उन्हें कोई भी चुनाव नही लड़ना है पर नियमावली को देखते हुए कोई भी निर्णय लेना है तो वह जरूर लेंगे।

साह ने कहा कि उनका वादा है कि वह हमेशा व्यापारियों के साथ खड़े रहेंगे तथा यदि वह गलत हैं और निर्णय उन्होंने बिना बॉयलाज के लिया है तो वह अल्मोड़ा के सभी वरिष्ठ व्यापारी व व्यापार मंडल के पूर्व पदाधिकारियों के आगे त्यागपत्र दे देंगे।