अल्मोड़ा: पंडित दीनदयाल उपाध्याय ने स्थापित किए अद्वि​तीय आदर्श—रौतेला

👉 जयंती पर याद किए गए जनसंघ के संस्थापक सदस्य सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा: आज सोमेश्वर विधानसभा के मनाऊं बूथ में जनसंघ के संस्थापक दीनदयाल उपाध्याय…

पंडित दीनदयाल उपाध्याय ने स्थापित किए अद्वि​तीय आदर्श—रौतेला

👉 जयंती पर याद किए गए जनसंघ के संस्थापक सदस्य

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा: आज सोमेश्वर विधानसभा के मनाऊं बूथ में जनसंघ के संस्थापक दीनदयाल उपाध्याय को उनकी जयंती पर याद किया गया। उनके चित्र में पुष्पांजलि अर्पित करते हुए भाजपा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य रवि रौतेला ने कहा कि एकात्म मानववाद व अंत्योदय के प्रणेता, प्रखर राष्ट्रवादी, महान विचारक एवं जनसंघ के संस्थापक सदस्य पंडित दीनदयाल उपाध्याय के विचारों व कर्तव्यनिष्ठा ने भारतीय राजनीति में अद्वितीय आदर्श स्थापित किये।

उन्होंने कहा कि दीनदयाल उपाध्याय का सम्पूर्ण जीवन विकास की किरण को अंतिम पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए समर्पित रहा। 25 सितम्बर, 1916 को उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के नगला चंद्रभान नामक गांव में जन्मे दीनदयाल उपाध्याय बचपन से ही मेधावी रहे। एसडी कॉलेज, कानपुर में प्रवेश के साथ ही वे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के कार्यक्रमों में रुचि लेने लगे। भारतीय जनसंघ की स्थापना डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने वर्ष 1951 में किया और पंडित दीनदयाल उपाध्याय को प्रथम महासचिव नियुक्त किया।

रवि रौतेला ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय के जीवन व कार्यों का विस्तृत उल्लेख करते हुए कहा कि उन्होंने देश को एकात्म मानव दर्शन जैसी प्रगतिशील विचारधारा दी और 11 फरवरी, 1968 को उनका निधन हो गया। इस कार्यक्रम में मण्डल अध्यक्ष वीरेन्द्र चिलवाल, बूथ अध्यक्ष देवेन्द्र बिष्ट, शक्ति केन्द्र संयोजक एनडी जोशी, मण्डल उपाध्यक्ष अर्जुन बिष्ट, गणेश जलाल, मण्डल महामंत्री ललित तिवारी, देवेन्द्र मेहरा, नन्दन सिंह, बच्ची सिंह, बहादुर सिंह, अंबादत्त सती, गणेश सिंह, भूपाल सिंह, सन्तोष बिष्ट, दीपक बिष्ट, नन्दी देवी, पानुली देवी, पूनम बिष्ट, बसन्ती देवी, जसौदा देवी, हेमा बिष्ट, संजू बिष्ट, शिवपाल सिंह, कमला रावत, हेमन्त सिंह , राजेन्द्र सिंह सहित अनेकों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।