हल्द्वानी न्यूज : एसटीएच में कोरोना संक्रमितों की हालत पर कांग्रेस महानगर इकाई ने एसटीएच प्राचार्य को सौंपा ज्ञापन, आंदोलन की चेतावनी

हल्द्वानी। महानगर कांग्रेस कमेटी ने एआईसीसी सदस्य सुमित हृदयेश के नेतृत्व में डा. सुशीला तिवारी स्मारक राजकीय चिकित्सालय के प्राचार्य डा. सीपी भैसोड़ा से भेंट…


हल्द्वानी। महानगर कांग्रेस कमेटी ने एआईसीसी सदस्य सुमित हृदयेश के नेतृत्व में डा. सुशीला तिवारी स्मारक राजकीय चिकित्सालय के प्राचार्य डा. सीपी भैसोड़ा से भेंट कर चिकित्सालय में व्याप्त समास्याओं को लेकर ज्ञापन सौंपा।
ज्ञापन में कहा गया है कि सुशीला तिवारी चिकित्सालय कुमाऊं मंडल का सबसे बड़ा और कोरोना की दृष्टिगत सबसे महत्वपूर्ण चिकित्सालय है। इसके बावजूद यहां भर्ती कोरोना संक्रमित लोगों को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। ज्ञापन के अनुसार चिकित्सालय में भर्ती मरीजों को भोजन की थाली ऐेसे फेंक कर दी जाती है, जैसे उन्होंने कोई अपराध किया हो। ज्ञापन में कहा गया है कि कोरोना संक्रमित सीनियर सिटीजन को तो और भी ज्यादा स्नेह पूर्ण व्यवहार की आवश्यकता है। जबकि चिकित्सालय में उनके साथ दुर्व्यवहार जैसा किया जा रहा है।
कांग्रेस जनों ने ज्ञापन के माध्यम से कहा है कि रामनगर निवासी एक बुजुर्ग को एसटीएच प्रशासन पहले दिन लापता घोषित करता है और बाद में उसका शव चिकित्सालय के ही एक बाथरूम में मिलता है। इससे चिकित्सालय की सुरक्षा व्यवस्था पर ही सवालिया निशान लग जाते हैं।
ज्ञापन में कोरोना संक्रमितों को मिलने वाले भोजन की टाइमिंग और गुणवत्ता पर भी सवाल उठाए गए हैं। लिखा गया है कि रोटी इतनी सख्त होती है कि उसे जानवर भी नहीं खा सकता।
कांग्रेसजनों ने कहा है कि अग्रिम पंक्ति के कोरोना वारियर्स जैसे नर्सिंग स्टाफ, वार्ड ब्यवाज और सफाई कर्मचारियों को कोरोना संक्रमण रोकने के लिए आवश्यक ड्रेस व उपकरण नहीं मिलने के कारण उनमें संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ता जा रहा है। यदि दुर्भाग्यवश ऐसा हुआ तो उसकी समस्त जिम्मेदारी चिकिसालय प्रशासन की होगी।
कहा गया है कि स्थाई कर्मचारियों की कमी के कारण उपनल व संविदा कर्मियों का कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए सबसे ज्यादा उपयोग किया जा रहा है। महामारी काल में उनके योगदान को नकारा भी नहीं जा सकता ऐसे में सरकार को उनके परिवार और उनकी सुरक्षा के लिए आवश्यक कदम उठाने चाहिए। कांग्रेसजनों के अनुसार चिकित्साालय में साफ सफाई न होने और यहां के शौचालय व बाथ रूम गंदे होने के कारण यहां से कोरोना संक्रमितों के भागने की खबरें आ रही हैं जो कि चिंताजनक है।
कांग्रेसी नेताओं ने सरकार पर आरोप लगाया है कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए सरकार विभिन्न मदों में धन जुटा रही है इसके बावजूद सरकार कोरोना मरीजों को उचित इलाज देने में विफल साबित हुई है। कांग्रेस जनों ने इन समस्याएं के दूर न होने की स्थिति में आंदोलन की चेतावनी भी दी हैं।
ज्ञापन सौंपने वालों में सुमित हृदयेश के अलावा कांग्रेस कमेटी के महानगर अध्यक्ष राहुल छिमवाल, प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष हेमंत बगडवाल, प्रदेश सचिव सुहेल सिद्दी और जीवन सिंह कार्मी आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *