लालकुआं नगर निकाय चुनाव से पहले नेताओं ने किया जनसंपर्क शुरू “वापसी हुई तो भाजपा के लिए अमृत सबित होंगे पूर्व चेयरमैन पवन चौहान”….

लालकुआं | लालकुआं नगर पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं, नगर में जहां कुछ प्रत्याशियों ने बकायदा अपने बैनर पोस्टर लगाकर जनता के…


लालकुआं | लालकुआं नगर पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं, नगर में जहां कुछ प्रत्याशियों ने बकायदा अपने बैनर पोस्टर लगाकर जनता के बीच अपने पत्ते खोल दिए हैं वहीं अभी बहुत से दावेदार अपनी दावेदारी को लेकर अपने समर्थकों के साथ अंदरखाने प्रचार में लगे हुए हैं। इसके अलावा कुछ उम्मीदवारों ने शहर के विभिन्न चौक-चौराहों तथा फेसबुक सहित अन्य माध्यम से प्रचार-प्रसार करना शुरू कर दिया हैं वहीं कई उम्मीदवार अपनी जीत का दावा करने से भी पीछे नहीं हैं। अगर टिकट की बात की जाए तो निकाय चुनाव में टिकट पाने के लिए सभी राजनीतिक दलों में दावेदारों की भरमार है वर्तमान में भाजपा में सबसे ज्यादा उम्मीदवार लाइन में है वहीं भाजपा को भी चुनाव से पहले प्रत्याशी की घोषणा करना किसी चुनौती से कम नहीं है। वहीं दावेदारों को देखते भाजपा के लिए “एक अनार सौ बीमार” कहावत चिरितार्थ हो रही है।

बताते चले कि नगर निकाय चुनाव में अभी कुछ ही महीनों का समय बचा हुआ है जिसको लेकर राजनीतिक चर्चाओं का बाजार गर्म है, नपं अध्यक्ष पद के लिए जहां तक सामान्य सीट की बात है तो इसके लिए पूर्व चेयरमैन पवन कुमार चौहान के अलावा पूर्व चेयरमैन रामबाबू मिश्रा, व्यापार मंडल अध्यक्ष दीवान सिंह बिष्ट, पूर्व चेयरमैन कैलाश पंत, युवा नेता भुवन पांडे, बॉबी संभल, धन सिंह बिष्ट, पीयूष मिश्रा, रविशंकर तिवारी, फिरोज खांन, जगदीश अग्रवाल आदि के नाम चर्चा में शामिल हैं।

वहीं अगर सीट ओबीसी कोटे में आती है तो इसके लिए वरिष्ठ समाजसेवी अजय चौधरी के अलावा कांग्रेस नगर अध्यक्ष सरदार गुरदीप सिंह, सर्दवन चौधरी, प्रेमनाथ पंडित, कमलेश यादव, दिनेश गिरि, मस्जिद अली, सुरेंद्र लोटनी, जहिद अली उर्फ नन्हे के नाम शामिल है। इसके अलावा नपं अध्यक्ष पद की सीट आरक्षित होती है तो इसके लिए दावेदारों की बात है तो जिसमें निवर्तमान चेयरमैन लालचन्द्र सिंह, भाजपा नेता अरूण कुमार बल्मिकी, आप नेता महेन्द्र कुमार, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार एवं युवा समाजसेवी मुकेश कुमार, पूर्व प्रत्याशी उदयवीर सिंह और नेत्रराम दौड़ में है।

अगर सीट महिला होती है तो इसके लिए पूर्व चेयरमैन अरुणा चौहान, कांग्रेस नेत्री मीना रावत, भाजपा महिला मोर्चा की मंडल तारा पाडे, उर्मिला मिश्रा, सभासद राजलक्ष्मी पाडिंत, शिल्पी देवी, सीमा अनेजा के नाम शामिल है। बता दे कि जैसे-जैसे नगर निकाय का चुनाव नजदीक आने के साथ ही अन्य भावी प्रत्याशी भी अपने समर्थकों के साथ चुनाव में अपनी दावेदारी प्रस्तुत करने के लिए रणनीति बनाने में जुटे नजर आ रहे हैं।

वहीं पिछ्ले चुनाव में नपं अध्यक्ष पद की सीट अरक्षित होने तथा उससे पहले 2012 में भाजपा से टिकट न मिलने कारण पूर्व चेयरमैन पवन चौहान इस बार प्रबल दावेदार माने जा रहे है एक बार खुद तथा दूसरी बार अपनी धर्मपत्नी अरूणा चौहान को भारी मतों से जीत दर्ज करने वाले पूर्व चेयरमैन पवन चौहान को आगामी नगर निकाय चुनाव में कौन चुनौती देता या इस बार बाजी मारने में कामयाब होते हैं यहां प्रश्न भी जनता को उद्वेलित कर रहा है।

अगर आगमी निकाय चुनावी दौर में सीट सामान्य हो और भाजपा में पूर्व चेयरमैन पवन चौहान की वापसी होती है तो यहां सीट भाजपा के गॉड गिफ्ट साबित होगी। क्योंकि पूर्व चेयरमैन पवन चौहान का भाजपा से गहरा नाता रहा है, वर्ष 1996 में भाजपा के सक्रिय सदस्य होने के नाते भाजपा ने वर्ष 1997 में जिला मंत्री मनोनीत किया जिसके बाद से उनका कद भाजपा में बढ़ता रहा, वर्ष 2000 में लालकुआं मंडल का अध्यक्ष बनाया बाद में पार्टी ने उन्हें दो बार विधानसभा संयोजक तो एक बार विधानसभा पालक मनोनीत किया। वहीं पार्टी ने उन्हें दो बार प्रदेश कार्यकारणी सदस्य की भी जिम्मेदारी सौंपी, इस बीच हुए चुनावों में पूर्व चेयरमैन पवन चौहान ने अहम भूमिका निभाई और शहर भाजपा को अधिक वोट दिलाने वाले नेता बने। लेकिन वर्ष 2022 में हुए विधानसभा चुनाव में उन्होंने पार्टी को अलविदा कह दिया। जिसके बाद उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा। वहीं वर्तमान में चौहान एक सक्रिय नेता के रूप में जनता के बीच बने हुए हैं उनकी हर वर्ग में अच्छी पकड़ है अगर भाजपा में उनकी वापसी होती है तो यहां भाजपा के “सोने पे सुहागा” जैसी बात होगी।

फिलहाल नगर में अगला चेयरमैन कौन, इस बात की सबसे ज्यादा चर्चा है जहां तक निवर्तमान नपं अध्यक्ष द्वारा कराए गए काम को लेकर हुए विरोध की बात करें तो थोड़ा बहुत एक दावेदार को छोड़कर, कोई अन्य उनके खिलाफ मुखरित नहीं होगें। वहीं नगर की जनता भी आगामी नगर निकाय चुनाव के दावेदारों का आकलन करने में लगी हुई है। इधर नगर पंचायत चुनाव को लेकर पहली बार आप आदमी पार्टी भी सक्रिय नजर आ रही है तथा विभिन्न वार्डों का दौरा कर अपने प्रत्याशियों के लिए फीड बैक लेती नजर आ रही है फिलहाल चुनाव कब होगा “किस दिन होगा” अभी तय नहीं हुआ है‌।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *