इन बाल वै​ज्ञानिकों के अविष्कार कमाल, राष्ट्रीय विज्ञान प्रदर्शनी में होंगे शामिल

विशेष : अल्मोड़ा के तीन बाल वैज्ञानिक हर्षित बिष्ट, मानस बिष्ट तथा यश तिवारी राष्ट्रीय विज्ञान प्रदर्शनी में उत्तराखंड का प्रतिनिधित्व करने जा रहे हैं।…

राष्ट्रीय विज्ञान प्रदर्शनी में होंगे शामिल

विशेष : अल्मोड़ा के तीन बाल वैज्ञानिक हर्षित बिष्ट, मानस बिष्ट तथा यश तिवारी राष्ट्रीय विज्ञान प्रदर्शनी में उत्तराखंड का प्रतिनिधित्व करने जा रहे हैं। इनके कमाल के अविष्कार हैरान कर देते हें। कम उम्र में इनमें गजब की प्रतिभा है।

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा। 26 दिसंबर 2023 से 31 दिसंबर 2023 तक महाराष्ट्र पुणे में होने वाली राष्ट्रीय विज्ञान प्रदर्शनी हेतु जनपद अल्मोड़ा के तीन छात्रों का चयन हुआ है। जिनमें इंटर कॉलेज सिनार भिकियासैण के हर्षित बिष्ट, विवेकानंद इंटर कॉलेज अल्मोड़ा से मानस बिष्ट तथा राजकीय इंटर कॉलेज बसेड़ी से यश तिवारी हैं। तीनों का चयन एनसीईआरटी द्वारा किया गया है। ये छात्र राष्ट्रीय प्रतियोगिता में उत्तराखंड का प्रतिनिधित्व जिला विज्ञान सामान्य विनोद कुमार राठौर के नेतृत्व में करेंगे।

हर्षित ने दिव्यांग जन हेतु बनाया ट्रैफिक सिग्नल

हर्षित बिष्ट द्वारा दिव्यांगों के लिए एक ऐसे ट्रैफिक सिग्नल बनाया गया है जिससे दिव्यांग व्यक्ति बिना किसी सहारे के आसानी से सिग्नल पर रोड क्रॉस कर सकते हैं। इनके द्वारा एक ऐसी डिवाइस तैयार की गई है कि जिससे ट्रैफिक सिग्नल पर ब्लाइंड व्यक्ति को मदद मिलेगी। दिव्यांग के हाथ में एक बाइब्रेसन होगा। जिसका अर्थ होगा कि ग्रीन लाइट जल गई है। तब वह रोड क्रॉस कर सकता है। ट्रैफिक सिग्नल पर अलार्म भी बजेगा जब तक ग्रीन लाइट होगी। इस प्रकार अंधे दिव्यांग व्यक्ति आसानी से रोड क्रॉस कर पाएंगे।

यश तिवारी का गणित पर आधारित मॉडल

यश तिवारी द्वारा खेल-खेल में गणित पर आधारित मॉडल का निर्माण किया है। गणित के कठिन संबोधो को खेल के माध्यम से छात्र/छात्राओं को सिखाने हेतु आधारभूत सिद्धांत बनायेे हैं। खेल-खेल में गणित के बेसिक कान्सेप्टों का ज्ञान कराना मॉडल का माध्यम से बताया गया है। हम मॉडल के माध्यम से गणित से संबंधित अधिक से अधिक सिद्धांतों को आसानी से सीखा जा सकता हैं तथा गणित के प्रति छात्राओं में रुचि जागृत की जा सकती है।

सेना के काम आयेगा मानस बिष्ट का अविष्कार

विवेकानन्द इंटर कॉलेज अल्मोड़ा के मानस बिष्ट द्वारा आईओटी ट्रक का मॉडल बनाया गया है। इसके द्वारा ट्रक ड्राइवरों की जिंदगी को आसान कर सकते है। इसमें ट्रक को मोबाइल से कंट्रोल किया जा सकता है। 360 डिग्री पर अपनी जगह पर झुकाया जा सकता है। इसमें रडार लगाया गया है जो आर्मी के लिये यह ट्रक बहुत महत्वपूर्ण है। आईआर सेंसर के द्वारा बम की खोज कर सकता है। किसी को वाइस मैसेज रिकार्ड करके भेजने हेतु डिवाइस लगायी गई है। यह ट्रक ऑटो पाइलट मूड के साथ वाइस मैसेज से भी चलेगा। हर्षित बिष्ट के गाइड शिक्षक कैलाश भट्ट, मानस बिष्ट के गाइड शिक्षक दीपक मेहता, तथा यश तिवारी के गाइड शिक्षक बलवन्त नेगी हैं।

छात्रों की इस उपलब्धि पर सांसद अजय टम्टा, विधायक मनोज तिवारी, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश जोशी, जिलाधिकारी विनीत तोमर, मुख्य विकास अधिकारी (CDO) आकांक्षा कोण्डे, मुख्य शिक्षा अधिकारी एडी बलोदी, जिला शिक्षा अधिकारी अत्रेश सयाना, खंड शिक्षा अधिकारी रवि मेहता, चन्दन सिंह बिष्ट, प्रकाश जंगपांगी, हरीश रौतेला, विनय कुमार, पुष्कर लाल टम्टा, वंदना रौतेला, प्रेमा बिष्ट, प्रधानाचार्य मोहन सिंह रावल, प्रधानाचार्य जय नारायण ने उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।