अल्मोड़ा : अहम है पंचायतों में महिलाओं की भागीदारी, पंचायत प्रतिनिधि प्रशिक्षण

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के तहत परम सेवा समिति के सहयोग से आयोजित, पंचायती राज निदेशालय उत्तराखंड सरकार और जिला पंचायती राज…


सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा

राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के तहत परम सेवा समिति के सहयोग से आयोजित, पंचायती राज निदेशालय उत्तराखंड सरकार और जिला पंचायती राज संस्थान अल्मोड़ा द्वारा प्रायोजित राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के तहत
पंचायत प्रतिनिधियों के लिए विकासखंड हवालबाग के विभिन्न स्थानों पर प्रशिक्षण कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है।

इस अभियान का उद्देश्य मूल रूप में पंचायत प्रतिनिधियों की क्षमताओं का विकास करना है, ताकि पंचायतें सुगमतापूर्वक अपना कामकाज कर सकें और विकास की योजनाओं का निर्माण और क्रियान्वयन भी जन भागीदारी से प्रभावी तरीके से हो सके। इसी क्रम में अभियान के पहले चरण में हवालबाग विकासखंड सभागार में ग्राम प्रधानों व क्षेत्र पंचायत सदस्यों के लिए चार दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस प्रशिक्षण में उनको स्लाइड शो के माध्यम से मुख्य रूप से ग्राम स्तर पर विकास योजनाओं के निर्माण, नियोजन, क्रियान्वयन के विभिन्न पक्षों और प्रक्रियाओं के बारे में बताया गया। पंचायतों में महिलाओं की भागीदारी और भूमिकाओं को लेकर भी उनको व्यापक जानकारी दी गयी। साथ ही पंचायत प्रतिनिधियों को ग्राम विकास योजना, ठोस और तरल कूड़ा प्रबंधन, सलत विकास लक्ष्य, लैंगिक समानता आदि विषयों की जानकारी भी दी गयी।

कार्यक्रम के संयोजक विनोद पाण्डेय ने बताया की वर्तमान में यह अभियान न्याय पंचायत स्तर पर आयोजित किया जा रहा है। जिसमें हवालबाग विकासखंड की विभिन्न न्याय पंचायतों में वार्ड सदस्यों को क्षमता विकास प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। प्रशिक्षण का संचालन परम सेवा समिति के मास्टर ट्रेनर विनोद पाण्डेय, प्रभा सिंह बिष्ट, शशि शेखर कर रहे हैं। साथ ही इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में ग्राम प्रधान संगठन के अध्यक्ष देव सिंह खंड विकास अधिकारी पंकज कांडपाल, एडीओ पंचायत धर्मानंद आर्या, नोडल अधिकारी बी एस रावत आदि शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *