अल्मोड़ा: अतिवृष्टि से क्षतिग्रस्त ब्रिटिशकालीन पुल का स्थलीय निरीक्षण करने पहुंचे डीएम

✍️ वैकल्पिक मार्ग की संभावना तलाशी और दिए जरुरी निर्देश सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा: जिलाधिकारी विनीत तोमर आज खैरना—मोहान—चौड़ीघट्टी मोटरमार्ग में अतिवृष्टि से धंसे ब्रिटिशकालीन पुल…

अतिवृष्टि से क्षतिग्रस्त ब्रिटिशकालीन पुल का स्थलीय निरीक्षण करने पहुंचे डीएम

✍️ वैकल्पिक मार्ग की संभावना तलाशी और दिए जरुरी निर्देश

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा: जिलाधिकारी विनीत तोमर आज खैरना—मोहान—चौड़ीघट्टी मोटरमार्ग में अतिवृष्टि से धंसे ब्रिटिशकालीन पुल का स्थलीय निरीक्षण करने पहुंचे। उन्होंने वैकल्पिक मार्ग का विकल्प परखे और इस संबंध में लोनिवि के ईई को जरुरी निर्देश दिए। साथ ही जनता से अपील की कि जब तक मार्ग दुरुस्त नहीं हो जाता, तब तक चिमटाखल-भौनखाल मोटरमार्ग का ही इस्तेमाल करें।

उल्लेखनीय है कि बीते दिनों तेज बारिश के कारण खैरना—मोहान—चौड़ीघट्टी मोटरमार्ग के किमी 105 पर बना ब्रिटिश कालीन पुल धंस गया था। इसी पुल का स्थलीय निरीक्षण करने आज जिलाधिकारी विनीत तोमर मौके पर पहुंचे। इस दौरान जिलाधिकारी ने क्षतिग्रस्त पुल पर लोनिवि रानीखेत के अधिशाषी अभियंता से यहां पर वैकल्पिक मार्ग की जानकारी प्राप्त की और पुल को ठीक करने के संबंध में सुझाव लेते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। ईई ने जिलाधिकारी को बताया कि इस पुल के माध्यम से रास्ता बनाने में लगभग 15 दिन का समय लगेगा। जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि वन विभाग के अधिकारियों से समन्वय स्थापित किया जाए और करीब ही वन भूमि से गुजर रहे रास्ते को खोलने की कार्यवाही की जाए, यह रास्ता आगे एनएच पर मिलता है। इससे आपातकालीन वाहनों एवं आसपास के ग्रामीणों को लाभ मिल सकेगा। जिलाधिकारी ने वैकल्पिक रास्ते के निर्माण के लिए स्थल का निरीक्षण किया और अधिशाषी अभियंता को निर्देश दिए कि अस्थाई रास्ते में गड्ढे पाटे जाएं और झाड़ियां हटाई जाएं।

वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए उक्त मार्ग से जाने वाली गाड़िया वैकल्पिक मार्ग चिमटाखल-भौनखाल होते हुए भतरोंजखान को जा रही हैं। जिलाधिकारी ने आम जनमानस से अपील की है कि रास्ता ठीक होने तक चिमटाखल-भौनखाल होते हुए भतरोंजखान वाले रास्ते का ही प्रयोग करें। इस दौरान अधिशाषी अभियंता पीडब्ल्यूडी रानीखेत ओंकार पांडे, तहसीलदार सल्ट आबिद अली समेत अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *