Covid JN.1 : नए वैरिएंट ने आज ले ली तीन की जान, यहां बढ़े मामले

CNE DESK/कोवडि का नया वैरिएंट Covid JN.1 धीरे—धीरे रफ्तार बढ़ाने लगा है। यदि इसे रोका नहीं गया तो आने वाले समय में यह खतरनाक रुप…

Covid JN.1

CNE DESK/कोवडि का नया वैरिएंट Covid JN.1 धीरे—धीरे रफ्तार बढ़ाने लगा है। यदि इसे रोका नहीं गया तो आने वाले समय में यह खतरनाक रुप भी ले सकता है। आज इसकी वजह से तीन लोगों की जान चली गई।

भारत में कोरोना के नए सब-वैरिएंट JN1 की पहली बार पहचान अगस्त माह में हुई थी। पहले लोगों ने इसे बहुत हल्के में लिया, लेकिन अब पाया जा रहा है कि मजबूत इम्यूनिटी वालों को भी यह अपनी चपेट में ले रहा है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आज सोमवार को कर्नाटक में 34 नए मामले दर्ज हुए और 03 मरीजों की मौत हो गई। वहीं, केरल में कोरोना के केस में आज वृद्धि दर्ज हुई। एक ही रोज में यहां 115 नए मामले दर्ज हुए।

एक्सपर्ट्स की मानें तो कोरोना वायरस ने एक नए रुप में बाद फिर दस्तक दे दी है! अबकी बार नया वैरिएंट JN.1 दिक्कत में डाल रहा है। देश में इसके मामलों में लगातार इजाफा हो रहा है।

कर्नाटक के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण सेवा विभाग ने रिपोर्ट जारी की है। जिसके अनुसार प्रदेश में जेएन1 वैरिएंट के कुल 34 मामलों का पता चला है। 20 बेंगलुरु, चार मैसूरु, तीन मामले मांड्या में और एक-एक मामला रामनगर, बेंगलुरु ग्रामीण, कोडागु और चामराजा नगरा से दर्ज हुआ है।

केरल में सर्वाधिक मामले

इस नए कोराना स्वरूप ने देश के कई हिस्सों में अपनी मौजूदगी दर्ज करानी शुरू कर दी है। केरल में पिछले 24 घंटों में 115 नए मामले आना चिंताजनक है। केरन राज्य में कोविड के कुल सक्रिय मामलों की संख्या 1,749 हो चुकी है। अच्छी बात यह है कि विगत 24 घंटे में यहां किसी की जान नहीं गई है।

एक्सपर्ट बताते हैं कि JN.1 सब-वैरिएंट ओमिक्रॉन का सब-वैरिएंट BA.2.86 से बना है। 2022 के प्रारम्भ में BA.2.86 ही कोविड केस में वृद्धि का कारण था। हालांकि चिंता इस बात की है कि जेएन.1 एक ओमिक्रॉन का सब-वैरिएंट है। विशेषज्ञों का कहना है कि यह मजबूत इम्यूनिटी वालों को भी आसानी से संक्रमित कर रहा है। US Centers for Disease Control (CDC) ने इसे यूएस में Fastest growing variant बताया है।