बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिता में अंकित राज ने किया नाम रोशन, युवाओं को दिया यह संदेश

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा अगर मन में कुछ कर गुजरने की तमन्ना हो तो कोई भी लक्ष्य मुश्किल नहीं होता। अल्मोड़ा नगर के एक सामान्य परिवार…

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा

अगर मन में कुछ कर गुजरने की तमन्ना हो तो कोई भी लक्ष्य मुश्किल नहीं होता। अल्मोड़ा नगर के एक सामान्य परिवार से ताल्लुक रखने वाले युवा अंकित राज ने इस उक्ति को चरितार्थ किया है। इन्होंने स्टेट लेवल की बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिता में जनपद का नाम रोशन किया है। अंकित ने मिस्टर कुमाऊं व मिस्टर उत्तराखंड प्रतियोगिता में चतुर्थ स्थान प्राप्त किया है।

उल्लेखनीय है कि हल्द्वानी के शिवालिक इंटर कालेज में हुई शरीर सौष्ठव प्रतियोगिता (Bodybuilding competition) में अंकित राज ने प्रदेश के विभिन्न जनपदों से आए प्रतिभागियों से हुए मुकाबले के दौरान मिस्टर कुमाऊं व मिस्टर उत्तराखंड प्रतियोगिता वर्ग में Man’s physique में चौथा स्थान प्राप्त किया। इस प्रतियोगिता में पूरे उत्तराखंड से लगभग 100 से अधिक प्रतिभागी शामिल हुए थे।

अल्मोड़ा नगर के राजपुर निवासी अंकित राज स्व. नारायण राम व आशा देवी के पुत्र हैं। यह तीन भाई हैं। इनके पिता सेना से सेवानिवृत्त हुए थे। बताना चाहें​गे कि अंकित एक साधारण परिवार से ताल्लुक रखते हैं और इनकी माता निजि व्यवसाय करती हैं। पिता के निधन के बाद इन्होंने अपने परिवार को पूरा सहयोग प्रदान किया और काफी विपरीत परिस्थितियों में वक्त बिताया।

अंकित का सपना भविष्य में मिस्टर इंडिया का खिताब (Mr India) जीतने का है। इसके लिए वह विशेष रूप से तैयारी कर रहे हैं। अंकित का कहना है कि यदि मन में कुछ कर गुजरने की ललक है तो कभी न कभी हम अपनी मंजिल तक पहुंच ही जाते हैं। उनका कहना है कि हर किसी के लिए अपने शरीर को स्वस्थ रखना बेहत जरूरी है। अतएव अपने खान—पान व दिनचर्या पर विशेष ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज की युवा पीढ़ी को यदि भटकाव व नशाखोरी से बचाना है तो उन्हें शारीरिक गतिविधियों में जरूर अपना कुछ वक्त देना चाहिए। अंकित ने कहा कि अगर कोई युवा इस क्षेत्र में आना चाहता है तो उसे जंक फूड कतई नहीं लेना चाहिए। अपनी डाइट में ज्यादा से ज्यादा हेल्दी फूड healthy food शामिल करना चाहिए। शरीर सौष्ठव प्रतियोगिता में शामिल होने की इच्छा रखने वालों को कम से कम रोज 01 से 01.30 घंटा व्यायाम करना चाहिए। अंकित ने बताया कि साल 2010 में जब यह हाईस्कूल के छात्र थे, इन्होंने बॉडी बिल्डिंग शुरू कर दी थी।

यह भी उल्लेखनीय है कि अंकित का अल्मोड़ा नगर में अपना जिम The Asha extreme power नाम से है, जहां यह स्वयं भी रियाज करते हैं। उन्होंने इंटर तक की पढ़ाई की है और भविष्य में होने वाली बड़ी प्रतियोगिताओं के लिए खुद को तैयार कर रहे हैं। वह अपने शरीर को मजबूत बनाने के लिए रोजाना 03 से 04 घंटे रियाज किया करते हैं। इधर अंकित की इस सफलता पर तमाम लोगों ने उन्हें शुभकामना देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है।