अल्मोड़ा: स्वास्थ्य सेवाओं में बेहतरी लाएगा ‘आयुष्मान भव:’

👉 राष्ट्रीय अभियान के उद्घाटन पर जिला अस्पताल में कार्यक्रम सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा: भारत सरकार के ‘आयुष्मान भवः’ कार्यक्रम का आज राष्ट्रीय स्तर पर उद्घाटन…

स्वास्थ्य सेवाओं में बेहतरी लाएगा 'आयुष्मान भव:'

👉 राष्ट्रीय अभियान के उद्घाटन पर जिला अस्पताल में कार्यक्रम

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा: भारत सरकार के ‘आयुष्मान भवः’ कार्यक्रम का आज राष्ट्रीय स्तर पर उद्घाटन हो गया। उद्घाटन वर्चुअल माध्यम से राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु द्वारा किया गया। वर्चुअल माध्यम से हर क्षेत्र से लोग जुड़े रहे। इस उपलक्ष्य में जिला चिकित्सालय, अल्मोड़ा में जिले में इस कार्यक्रम का शुभारंभ सांसद अजय टम्टा, विधायक मनोज तिवारी एवं भाजपा जिलाध्यक्ष रमेश बहुगुणा की मौजूदगी में हुआ। जिला अस्पताल के प्रमुख चिकित्सा अधीक्षक डॉ. एचसी गड़कोटी, जिला सरविलांस अधिकारी डॉ. कमलेश जोशी एवं जिला क्षय रोग अधिकारी डॉ. प्रांशु डेनियल ने अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम का आगाज दीप प्रज्ज्वलन से हुआ।

समारोह में सांसद अजय टम्टा ने कहा कि आयुष्मान भवः कार्यक्रम को आयुष्मान भारत कार्यक्रम की सफलता के मद्देनजर शुरू की गयी। उन्होंने बताया की यह अभियान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन यानि 17 सितंबर 2023 से लागू होगा। अभियान के तहत 17 सितंबर 2023 से 2 अक्टूबर 2023 तक आयुष्मान योजना से जुड़े सभी स्वास्थ्य और कल्याण केन्द्रों पर आयुष्मान मेले आयोजित होंगे। विधायक मनोज तिवारी ने आयुष्मान भवः योजना के शुभारंभ की बधाई देते हुए योजना के लाभ की जानकारी दी।

कार्यक्रम में जिला सर्विलांस अधिकारी डॉ. कमलेश जोशी ने आयुष्मान भवः कार्यक्रम का परिचय दिया, जबकि जिला कार्यक्रम प्रबन्धक एनएचएम दीपक भट्ट ने इस राष्ट्रव्यापी पहल की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि इसका मकसद देश के हर गांव व कस्बे तक स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाना है। भाजपा जिलाध्यक्ष रमेश बहुगुणा ने आशा कार्यकर्तियों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा की आशाएं फील्ड में सराहनीय कार्य कर रही हैं। टीबी क्लीनिक अल्मोड़ा के एचटीएस आनंद मेहता के संचालन में निःक्षय पोषण योजना के तहत उपचाराधीन टीबी रोगियों को पोषण किट का वित्त पोषण करने वाले निःक्षय मित्रों को प्रशस्ति पत्र वितरित किए गए। समारोह मे स्वस्थ्य विभाग, टीबी क्लीनिक के कर्मचारी व अर्बन क्षेत्र की आशाए आदि उपस्थित रहे।