Breaking : जिला अस्पताल में कार्यरत 32 साल के चिकित्सक को आया हार्ट अटैक, मौत

सीएनई रिपोर्टर कहा जाता है कि मौत के आने का न तो कोई निश्चित समय होता है और ना ही दिन। सारे संसाधनों के होते…

सीएनई रिपोर्टर

कहा जाता है कि मौत के आने का न तो कोई निश्चित समय होता है और ना ही दिन। सारे संसाधनों के होते हुए भी कोई मौत को छल नहीं पाता है। ऐसा ही कुछ एक चिकित्सक के साथ हुआ है। अस्पताल परिसर में ही 32 साल के डॉक्टर को दिल का दौरा पड़ा और डॉक्टरों की पूरी टीम भी उन्हें बचा नहीं पाई।

दरअसल, श्रीनगर के जिला अस्पताल से एक दु:खद सूचना आई है। यहां जिला अस्पताल में कार्यरत नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. भास्कर पैन्यूली की महज 32 साल की आयु में दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई है।

उल्लेखनीय है कि टिहरी जनपद के कीर्तिनगर ब्लॉम अंतर्गत गांव पेड्यूला के मूल निवासी डॉ. भास्कर पैन्यूली जिला अस्पताल श्रीनगर में नेत्र रोग विशेषज्ञ के तौर पर कार्यरत थे। हाल में ही उनका विवाह हुआ था। उन्हें श्रीनगर के इस अस्पताल में अपनी सेवाएं देते 03 साल बीत चुके थे। बताया जा रहा है कि आज अचानक उन्हें हार्ट अटैक आ गया। जिसके बाद उन्हें संयुक्त अस्पताल में भर्ती भी कराया गया, लेकिन तमाम चिकित्सकों के अथक प्रयास के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका।

डॉ. पैन्यूली की मौत के बाद पूरे क्षेत्र में मातम पसर गया है। उनके साथ काम करने वाले सभी चिकित्सक बेहद गमगीन हैं। अस्पताल में इमरजैंसी सेवाओं को छोड़ अन्य को बंद रखा गया है। सभी का यही कहना है कि महज 32 साल की आयु में हार्ट अटैक आना हैरान करने वाला है। उससे भी अधिक दु:खद तो यह है कि तमाम विषय विशेषज्ञ व वरिष्ठ चिकित्सकों के बीच होते हुए भी डॉ. पैन्यूली को बचाया नहीं जा सका।