Friday , November 16 2018
Breaking News
Home / Crime / चचेरे भाई की हत्या करने वाले को उम्रकैद

चचेरे भाई की हत्या करने वाले को उम्रकैद

अदालत ने कहा-जांच अधिकारियों ने भी जांच में गड़बड़ियां की है
 नैनीताल। अपर जिला एवं सत्र न्यायधीश प्रथम विनोद कुमार की अदालत ने चचेरे भाई की हत्या में हल्द्वानी निवासी एक व्यक्ति को हत्या का दोषी ठहराते हुए आरोपी को आजीवन कारावास व 50 हजार रूपए अर्थ दण्ड की सजा सुनाई है। अर्थदण्ड की आधी राशि मृतक की पत्नी को दिये जाने के आदेश भी अदालत ने दिये है। अदालत ने इस मामले में हत्या की जांच कर रहे पुलिस एसआई इन्द्र सिंह राणा व आम्र्स मामले की जांच कर रहे एसआई मोहन पांडे को भी मामले की जांच करने में दोषी पाया गया। अदालत ने कहा कि जांच अधिकारियों ने जांच में गड़बड़ियां की है। अदालत ने डीजीपी को पत्र भेज कर इन जांच अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिये है। अभियोजन पक्ष के अनुसार 16 मई 2013 को रात्रि में कमलुवागांजा गौड़ हल्द्वानी निवासी कुलवंत सिंह पुत्र कपूर सिंह ने अपने चचेरे भाई हरजीत सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी। गोली के छर्रों से निमरत सिंह मृतक का पुत्र किरन पाल सिंह मृतक का भाई व कमलजीत सिंह मृतक का भतीजा भी घायल हो गए। घटना की रिपोर्ट 17 मई 13 को मृतक के पुत्र कुलवंत सिंह ने पुलिस में दर्ज कराई। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 302, 324, 504 आदि के तहत मुकदमा दर्ज किया ।जिसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। इस मामले की सुनवाई के दौरान अभियोजन पक्ष की ओर से जिला शासकीय अधिवक्ता सुशील शर्मा ने 15 गवाह कोर्ट में पेश किए गये। जिनमें चश्मदीद गवाह मृतक की पत्नी, पुत्री व भाई की पत्नी भी शामिल हैं। बुधवार को मामले मेंअपर जिला सत्र न्यायाधीश विनोद कुमार की अदालत ने आरोपी को हत्या का दोषी ठहराते हुए आरोपी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई।

About dheeraj kumar

Check Also

जानलेवा हमले के आरोपी को गिरफ्तार करके लौट रही राजस्व पुलिस की टीम से भरी मैक्स रामगंगा में गिरी, सात घायल

भिकियासैंण| तहसील मुख्यालय से दस किमी दूर जैनल स्याल्दे मोटर मार्ग पर अमरोली बैंड पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *