Saturday , November 17 2018
Breaking News
Home / Kalamkaar

Kalamkaar

Kalamkaar

खुशखबरी: उच्च न्यायालय ने पत्रकारों में जगाई आस, सरकार को मजीठिया आयोग कीर रिपोर्ट लागू कराने के लिए दिए निर्देश

नैनीताल। उत्तराखंड हाईकोर्ट ने अखबारों में आज मजीठिया आयोग की रिपोर्ट को लागू करने के लिए दिए सरकार को नए दिशा निर्देश जारी किए हैं। आज हाई कोर्ट ने श्रमजीवी पत्रकारों, रिपोर्टर्स, स्ट्रिंगर्स, संवादसूत्रों व मीडिया कर्मियों के संस्थानों द्वारा शोषण पर पत्रकार रविंद्र देवलियाल की जनहित याचिका पर उत्तराखंड …

Read More »

…तो क्या उत्तराखंड में भी धरती फटने का इंतजार है अजय भट्ट को

रजनीश तपन मीटू में फंसे भाजपा प्रदेश महामंत्री संगठन के पदच्युत होने की जानकारी देने के लिए प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट द्वारा बुलाई पत्रकारवार्ता में भट्ट के तर्क कुतर्क से कम नहीं थे। दरअसल अब तक संजय कुमार भाजपा के जिन नेताओं की आलाकमान के सामने पैरवी करते थे वे …

Read More »

पत्रकार नहीं वह धनपशु है

रजनीश तपन वह पत्रकार तो कभी था ही नहीं, लेकिन पत्रकारिता की गंगा के किनारे मंडराने वाला ऐसा शख्स था जो लोगों को गंगा भक्त ही दिखाई देता है। इस गंगा में स्नान करने आने वाले उसके निशाने पर रहते हैं। दरअसल वह धनपशु है जिसने न पत्रकारिता के सिद्धांतों …

Read More »

डॉ गणेश उपाध्याय की कलम से…..

किच्छा -आजादी के बाद 1952 से लेकर 21वीं सदी के पहले डेढ़ दशक तक राजनीति में एक जाज्वल्यमान नक्षत्र की तरह चमकने वाले नेहरूयुगीन राजनेताओं के तारकमंडल के आखिरी तारे की चमक भी अनंत में विलीन हो गई। पंडित नारायण दत्त तिवारी के निधन की सूचना से तमाम देश में …

Read More »

व्यंग्य : मी टू वर्सेज यू टू

चारों ओर मी टू का हाहाकार मचा हुआ है। किसी से भी पूछ लो, बच्चा तक बता डालेगा मी टू चल रिया है। फोक-वोग दूर-दूर तक नहीँ दिखाई दे रिया। पुरुष जाति दशहत में है। कब किधर से किसके पुराने पाप उघड़ जाएं कोई नहीँ जानता। कब मी टू का …

Read More »

आज भी व्याप्त है भ्रष्टाचार रूपी दशानन का अत्याचार

आज हम सभी भले ही सच्चाई की जीत का जश्न मनाने को तैयार हों, किन्तु वास्तव में केवल यह हमने एक मात्र परंपरा के रूप तक ही सिमित रख दी है। सोचा जाय तो हमने कभी भी भगवान श्री रामचन्द्र जी के आदर्शों पर चलने की कोशिश या कभी कल्पना …

Read More »

देवभूमि के पहाड़ के गाँवों में चारा संग्रहण की अनूठी विधि : लूठे

भुवन बिष्ट भारत वर्ष के साथ साथ हमारी देवभूमि उत्तराखंड भी सदैव कृषि प्रधान रही है। देवभूमि उत्तराखंड के पहाड़ के गाँवों में पशुपालन, कृषि सदैव ही रोजगार व परिवार के पालन पोषण का सबसे सशक्त माध्यम रहा है। अश्विन कार्तिक मास जिसे असोज माह के नाम से भी जाना …

Read More »

गैरसैण स्थाई राजधानी बनने तक जारी रहेगा संघर्ष

अल्मोड़ा। उत्तराखण्ड परिवर्तन पार्टी ने कहा है कि जनता पर जबरन थोपे गए जिला विकास प्राधिकरण को हर हाल में वापस लिया जाना चाहिए। कहा कि गैरसैण स्थाई बनने तक पार्टी अपना संघर्ष जारी रखेगी। पार्टी की लोनिवि विश्राम गृह चौखुटिया में संपन्न बैठक में सामुदयिक स्वास्थ केंद्र के साथ …

Read More »

कविता : हार जीत के इस खेल में

मानव क्यों भयभीत है हार जीत के इस खेल में। अपने कर्तव्य पथ पर कर्म कर तू हार-जीत के खेल में।। जीवन की अपेक्षा—उपेक्षा से ऊपर उठ जा इस हार जीत के खेल में तुझे लौटकर आना होगा अपना कर्म पथ दिखाना होगा। किंचित ना भयभीत हो कभी जीवन के …

Read More »

व्यंग्य : बापू के चौथे बंदर का हड़कम्प

बापू के चौथे बंदर ने भयंकर हड़कम्प मचाया हुआ है। चारों तरफ उसी की तूती बोल रही है। लोग उस पर फिदा हैं। बापू का ये बंदर लेटेस्ट हैं। ट्रेंड में हैं। ये बापू का पाला हुआ नहीं है, बल्कि बापू के जाने के बाद इसका लालन-पालन हुआ है, लेकिन …

Read More »