Thursday , October 18 2018
Breaking News
Home / Uttarakhand / Almora / अल्मोड़ा : जिला योजना की हंगामेदार बैठक, विधायकों, सदस्यों ने किया बैठक का बहिष्कार

अल्मोड़ा : जिला योजना की हंगामेदार बैठक, विधायकों, सदस्यों ने किया बैठक का बहिष्कार

अल्मोड़ा। विकास भवन में प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री व जनपद के प्रभारी मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत की अध्यक्षता में संपन्न जिला योजना की बैठक हंगामेदार रही। यही नहीं जिला येाजना में गत वर्ष की तुलना में बड़ी कटौती किये जाने तथा जिला योजना की विभागवार बुकलेट बैठक में ही उपलब्ध कराये जाने से नाराज जिला योजना के सदस्यों व विधायकों ने बैइक का बहिष्कार किया।
निर्धारित समय से करीब डेढ़ घंटा बिलम्ब से हुई बैठक में जागेश्वर के विधायक व पूर्व विधान सभा अध्यक्ष गोविन्द सिंह कुंजवाल ने कहा कि पूर्व में कांग्रंेस सरकार में अल्मोड़ा की जिला योजना 65 करोड़ थी। जिसे इस वर्ष घटाकर 41 करोड़ कर दिया जिससे जनपद को 24करोड़ का नुकसान हो रहा है। जबकि पौड़ी की जिला योजना 66 करोड़ है उन्होंने कहा पौड़ी व अल्मोड़ा जनपद की भौगोलिक स्थिति लगभग एक समान है। उन्होंने अर्थसंख्या विभाग द्वारा जिला योजना की विभागावार बजट की बनाई गयी बुकलेट को भी बैठक में ही उपलब्ध कराये जाने पर नाराजगी जताते हुए कहा कि सदस्य बुकलेट का अध्ययन इतनी जल्दी नहीं कर सकते उन्होंने सुझाव दिया जिला योजना का आकार बढ़ाने हेतु जिला योजना की बैठक की अगली तिथि निधारित की जाय। प्रभारी मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत द्वारा बैठक की अगली तिथि निर्धारित करने पर अपनी सहमति व्यक्त करने के बाद बैठक ज्यों ही शुरू हुई तथा जिला योजना को विभागवार स्वीकृत करने की कार्यवाही की जाने लगी तो श्री कुंजवाल सहित रानीखेत के विधायक करन महरा जिला पंचायत अध्यक्ष पार्वती महरा के साथ ही जिला पंचायत के सदस्यों ने बैठक का बहिष्कार कर दिया। इस दौरान सदस्यों ने विरोध में जमकर हंगामा किया तथा सरकार पर तानाशाही रवैय्या अपनाने का आरोप लगाया। वहीं पूर्व विधान सभा अध्यक्ष श्री कुंजवाल ने कहा कि सदस्यों के बहिष्कार के बाद जिस तरीके से प्रभारी मंत्री व भाजपा द्वारा सदस्यों की गैर मौजूदगी में जिला योजना का बजट पास किया गया है। उससे साफ है कि भाजपा का लोकतंत्र में विश्वास नहीं है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा के इस तानाशाही पूर्ण रवैय्ये व लोकतंत्र की हत्या पर तुली हुई है। तथा सरकार की हठधर्मिता का हर स्तर पर विरोध किया जायेगा।

About admin

Check Also

हैड़ाखान एग्जिक्यूटिव कमेटी के अध्यक्ष बने आलोक बनर्जी, 40 देश व विदेश के सदस्यों को भी किया गया मनोनीत

Post Views: 34 रानीखेत। चिलियानौला बाबा हैड़ाखान एग्जिक्यूटिव कमेटी के चुनाव में तीन वर्ष के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *