Friday , November 16 2018
Breaking News
Home / Uttarakhand / Almora / बाल सुरक्षा पर भतरौंजखान पुलिस व ग्राम प्रहरियों ने की कार्यशाला

बाल सुरक्षा पर भतरौंजखान पुलिस व ग्राम प्रहरियों ने की कार्यशाला

अल्मोड़ा। वाटिका हिमदर्शन रिजोर्ट सल्ट में चाइल्ड हेल्प लाईन, सब सेंटर मछोड़, सल्ट द्वारा स्पर्धा संस्था के बैनर तले कुल मिलकर करीब 50 पुलिस अधिकारियों, पुलिस कर्मियों तथा गांवों में कानून व्यवस्था में पुलिस को सहयोग करने वाले ग्राम प्रहरियों की बाल संरक्षण कानूनों मुख्य रूप से जुवेलाइन जस्टिस एक्ट पर एक दिवसीय कार्यशाल का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए कैलाश रौतेला ने सभी औपचारिक स्वागत किया व कार्यक्रम के उद्देश्य को स्पष्ट किया। निदेशक दीप चंद्र बिष्ट ने विशेष प्रतिभागियों को बुके भेंट कर सम्मानित किया। रिसोर्स पर्सन अंजनि कुमार ने प्रतिभागियोें को बाल कानूनों की आवश्यकता को स्पष्ट करते हुए कहा कि बच्चे समाज का सबसे नाजूक हिस्सा है और अगर उनकी उचित तरीके से संरक्षण व देखभाल नही की गई तो उनमें मानसिक विकृति आने की संभावना प्रबल हो जाती है और इस मानसिक विकृति की परिणति अपराध के रूप में सामने आती है और यह एक अस्वस्थ्य समाज को जन्म दे सकता है। उन्होंने बताया कि इसके लिए जरूरी है कि बाल कानूनों की मदद से देश में एक भयमुक्त वातावरण तैयार किया जाय। जिससे बच्चों का स्वस्थ्य मानसिक व शारीरिक विकास हो सके। उन्होंने बाल कानूनों को समझाते हुए जुवेनाइल् जस्टिस एक्ट पर विशेष रूप से फोकस किया तथा प्रतिभागियों को बताया कि बच्चों द्वारा अपराध करने की स्थिति में बच्चे को सिर्फ अपराधी के तौर पर ना देखकर उसकी मानसिक स्थिति को समझने की कोशिश करनी चाहिए और किए गए अपराध के लिए जिम्मेदार परिस्थितियों पर गहराई से विचार करना चाहिए। कार्यशाल के अंत में थानाध्यक्ष धरमवरी सोलंकी ने संस्था का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि स्वयं व अन्य प्रतिभागियों की समझ बाल कानूनों को लेकर बढ़ी है जो उनके लिए निश्चित रूप से बहुत लाभदायक साबित होगी। कार्यक्रम में सामाजिक कार्यकर्ता व बाल कानूनों के विशेषज्ञ रिसोर्स पर्सन, मुख्य वक्ता अंजनि कुमार, विशेष प्रतिभागियों के रूप में भतरौजखान थाने के थानाध्यक्ष धरमवरी सोलंकी, उप निरीक्षक ओम प्रकाश नेगी, थाना भिकियासैंण के थानाध्यक्ष राजीव उप्रेती आदि ने प्रतिभाग किया। स्पर्धा संस्था के मुख्य कार्यकारी व चाइल्ड हेल्प लाईन सल्ट के निदेशक दीप चंद्र बिष्ट के अलावा हेल्प लाईन की पांच सदस्यीय टीम मौजूद थे।

About dheeraj kumar

Check Also

जानलेवा हमले के आरोपी को गिरफ्तार करके लौट रही राजस्व पुलिस की टीम से भरी मैक्स रामगंगा में गिरी, सात घायल

भिकियासैंण| तहसील मुख्यालय से दस किमी दूर जैनल स्याल्दे मोटर मार्ग पर अमरोली बैंड पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *